बाणसागर डूब क्षेत्र के जमीन में सरपंच पति रामभवन पटेल के मिलीभगत से फर्जीबाड़ा

रामनगर ब्रेकिंग न्यूज़


        रामनगर ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत मासमासी  ग्राम छिराहा वार्ड नंबर 16 17 में सास की जमीन बाणसागर डूब क्षेत्र के जमीन में सरपंच पति रामभवन पटेल के मिलीभगत से फर्जी पट्टा गरीबों को दिखाकर 10 10 हजार रुपए लेकर भाटपारा डूब क्षेत्र के जमीन कुछ गरीबों का मकान बनवा दिया जब गरीब वही उसी जमीन पर अपने कच्चे मकान में रह रहे हैं जब उनके द्वारा सरपंच पति राम भवन पटेल एवं सचिव को कहा गया तब सरपंच पति के द्वारा यह कहा गया यह जमीन बाणसागर डूब क्षेत्र आप लोगों को आवास मिलेगा जोकि वहां कुछ आवास बने हुए हैं उसके ऊंची जगह वालों को सरपंच पति के द्वारा कहागया जोकि 2015 16 में पटवारी संदीप पटेल पदस्थ नहीं था का फर्जी साइन करके शासन की आंखों को पट्टी बांधे हुए मास मासी सरपंच पति के द्वारा गरीबों का चूस रहा है जिसकी शिकायत मंगलवार को जनसुनवाई में एसडीएम रामनगर ब्लॉक सीईओ को मैं रिकॉर्ड के साथ दीया गया है जो सीइओके द्वारा आश्वासन दिया गया है कि जांच कर कार्यवाही करेंगे


 


लेकिन रामनगर ब्लॉक सीईओ प्रेरणा सिंह के द्वारा दूरभाष में चर्चा हुई तो द्वारा कहा गया ग्राम पंचायत मास मासी ग्राम छिराहा में कोई कार्यवाही नहीं हुई जोकि 29 अक्टूबर 2019 को मंगलवार जनसुनवाई में पूरे दस्तावेज के साथ रिकॉर्ड सहित जानकारी दिया गया था तब उनके द्वारा यह कहा गया था कि दीपावली के बाद जांच कराकर कार्रवाई करूंगी लेकिन आज दिनांक 5 नवंबर 2019 को उनके द्वारा साफ शब्दों में कह दिया गया कोई कार्यवाही नहीं की जाएगी ऐसा क्यों



  रामनगर सी  ई ओ मैडम जांचकराने के पहले मस मासी सरपंच पति राम भुवन पटेल के द्वारा गरीबों से पैसा  लेकर नहीं दीया आवासऔर 


  यदि कलेक्टर महोदय एवं जिला सीई ओ द्वारा जांच करवाया जाए तो जरूर फर्जी सरपंच पति के ऊपर मुकदमा कायम हो सकता है जोकि


     सूत्रों के द्वारा जानकारी हुई है कि रामभुवन पटेल सांसद गणेश सिंह एवं अमरपाटन विधानसभा के विधायक रामखेलावन पटेल के बहुत करीबी इसलिए कई माह से चल रही है खबर पर किसी भी प्रकार के 420 व्यक्ति के ऊपर मुकदमा एवं जांच नहीं है


रामनगर के उच्च अधिकारियों के द्वारा किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई ऐसा क्यों जोकि 15 दिन पहले पूरे दस्तावेज के साथ रामनगर सीईओ रामनगर एसडीएम एवं सभी उच्च अधिकारी उपस्थित थे उनके सामने रामनगर शिव प्रेरणा सिंह दीपावली के बाद कार्यवाही करने के लिए अश्वसन दिए थे


 


      राजमणि पांडे की रिपोर्ट