Posts

Showing posts from January, 2020

चीन से शुरू हुए खतरनाक कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज मिलने की जानकारी से ग्वालियर के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया।

ग्वालियर,    ग्वालियर के मुरार स्थित जिला अस्पताल में सुबह की ओपीडी में मरीज पहुँचा  डाक्टर द्वारा जाँच करने पर उसमें चीन से आने वाली बीमारी कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दिए।  लेकिन डॉक्टर की लापरवाही का आलम यह रहा के सन्दिग्ध मरीज अस्पताल से ही गायब हो गया जिला अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ बी के बाथम के मुताबिक चीन की एक फैक्ट्री में काम करने वाले दो भाई जो कि ग्वालियर में निवास करते हैं पिछले हफ्ते वापिस लौटे हैं सुबह की ओपीडी में पहुँचे दोनों भाईयों की जब जाँच की गई तो दोनों में कोरोना वायरस लक्षण पाए गए जिसके बाद डाक्टर ने शुरूआती जाँच के लिए उन्हें लैब भेज दिया डाक्टर के अनुसार कोरोना वायरस की जाँच से संबंधित लैब मध्यप्रदेश में नहीं है इसलिए इन दोनों मरीजों के सैम्पल पुणे स्थित लैब या राम मनोहर लोहिया अस्पताल दिल्ली भेजे जाएँगे उसके बाद ही कोरोना वायरस की पुष्टि हो सकेगी फिलहाल दोनों मरीजों को सावधानी रखने के निर्देश के साथ अन्यंत्र स्थान पर भेज दिया गया है संबंधित डाक्टर और स्वास्थ्य विभाग ने अभी संदिग्ध मरीजों के विषय में कोई जानकारी नहीं दी है,  हालांकि दोनों का इलाज कर रहे

खेत खेत दौड़ रहे हैं कंप्यूटर बाबा और मन्त्री 

Image
Apna Lakahya News      शहडोल मे दो महीने पहले भी दौरे के दौरान कंप्यूटर बाबा आए थे शहडोल हाथ नहीं लगा था कुछ भी चार दिन पहले ही प्रभारी मंत्री और शहडोल कलेक्टर ललित कुमार दाहिमा सभी रेत खदान बंद कराई थी लगातार शहडोल प्रशासन की कार्यवाही से पहले ही माफियाओं के हौसले पस्त हैं फिर भी कंप्यूटर बाबा अपनी लोकप्रियता को बढ़ाने के लिए लगातार शहडोल में आकर पुरानी खराब पड़ी हुई मशीनों को निशाना बना रहे हैं और उनके साथ फोटो खिंचवा रहे हैं  सूत्रों की माने तो कंप्यूटर बाबा लगातार माफियाओं पर दबाव बनाकर दूसरे रास्ते से वसूली का भी काम कर रहे हैं उस पर उनके कुछ चेला माहिर है* और इसीलिए शहडोल में नदियों में कुछ नहीं मिला तो खराब पड़ी पुरानी मशीनों के साथ खड़े होकर फोटो खिंचवा रहे हैं  बाबा को तो जिस तरफ देखना है उस तरफ देख नहीं रहा है वह इस ओर देख रहा है कि सभी लोग काम उधर अवैध उत्खनन का करते रहें और इधर कंप्यूटर बाबा लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए शहडोल का दौरा कर रहे हैं क्योंकि भोपाल के आसपास होशंगाबाद सीहोर और विदिशा में जमकर अवैध उत्खनन, हो रहा है और वहां से मोटी रकम बाबा के जेब

ठगों का गढ/ ऑनलाइन फ्रॉड का केंद्र मेवात: ओएलएक्स जैसी साइट्स पर फौजी बन दिखाते हैं वाहन, बुलाकर अरावली पर लूट लेते हैं

  * नूंह पुलिस ने लोगों को लूट से बचाने के लिए बोर्ड लगाया है *30 दिन में 8 प्रयासों से गिरोह में मिली एंट्री, खेतों में देखे फ्रॉड के नए-नए तरीके यहां पुलिस भी बिना तैयारी नहीं जाती, 3 दिन रुककर-की इन्वेस्टिगेशन दिन पर दिन ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं बढ़ रही हैं। हर राेज अलग-अलग तरीके से लोग ठगे जा रहे हैं। इस अपराध की जड़ तलाशते हुए हम पहुंचे गुड़गांव के साइबर थाने। यहां सालभर में दर्ज 8700 मामलों ने चौंका दिया। पता चला कि इन दिनों ठगों ने ओएलएक्स जैसी साइट्स को जरिया बना रखा है। 60 % केस की जांच हरियाणा व राजस्थान के मेवात में घूम रही थी तो हमने भी उसी ओर रुख किया। यहां फिशिंग आम है एक मछली पालन और दूसरी ऑनलाइन धोखाधड़ी (phishing)। ठगों के गांव तो पहचान में आ गए, पर इन तक पहुंचना मुश्किल था। पुलिस भी बिना फूलप्रूफ प्लान इन पर हाथ नहीं डालती। ये पुलिसवालों पर हमला कर देते हैं। कई बार हमें भी लौटना पड़ा। एक माह में आठ प्रयास के बाद हम इस तरह की गैंग तक पहुंच पाए। तीन दिन उनके साथ रहकर जाना कि कैसे आपके हर ट्रांजेक्शन पर उनकी नजर है। कैसे ये आपके दिमाग से खेलते हैं और आजकल कैसे फौजी बनकर आ

खिलाड़ियों के रोमांचक मुकाबले ने जीता खेल प्रेमियों का दिल

Image
कबड्डी खिलाड़ियों के जज़्बे को एसपी का सलाम सतना। जिला एमेच्योर कबड्डी एसोसिएशन के तत्वावधान पर बाबूपुर में 21 जनवरी से चल रहे 6 दिवसीय कबड्डी एवं खेलकूद प्रतियोगिता के चौथे दिन शुक्रवार को खेले गए कबड्डी मैच में कोलगढ़ी, कुंआ, चूंद, मझियार व नीमी वृत के सीनियर वर्ग की टीम ने अपनी प्रतिद्वंदी टीम को पराजित कर अगले चरण में प्रवेश किया। जबकि जूनियर वर्ग में कोठरा, कुंआ, मलगांव, पोइंधा व पोइंधा खुर्द की टीम के खिलाड़ियों को विजयश्री होने का गौरव हासिल हुआ। वहीं मिनी वर्ग के बीच हुए कबड्डी मैच में नीमी व कुंआ के खिलाड़ियों की टीम फाइनल में प्रवेश कर गई। इसी तरह रस्साकसी प्रतियोगिता में नीमी वृत्त, करसरा व कोठरा की टीम ने बाजी मारी। उधर 800 मीटर की दौड़ में फुटौन्धा के महेंद्र आदिवासी प्रथम, ऊँचेहरा के राजकुमार केवट द्वितीय व बराज के विगुल विश्वकर्मा तृतीय स्थान पर रहे। 400 मीटर की दौड़ में हाटी के रमाकांत शर्मा ने पहला, बाबूपुर के प्रशांत सिंह ने दूसरा और कोठरा के अक्षय सिंह ने तीसरा स्थान अर्जित किया। वहीं 200 मीटर की दौड़ में हाटी के सुख निधान शर्मा प्रथम, कुंआ के गजेंद्र सिंह द्वितीय व सोहास के

महिला आरक्षक को बंदी बनाकर 6 लोगों ने किया दुष्कर्म, जांच में जुटी पुलिस

महिला आरक्षक को नशीला पदार्थ खिलाकर अपहरण कर बंधक बनाकर 6 लोगों द्वारा दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. ग्वालियर जिले में एक महिला आरक्षक का अपहरण कर बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. 6 युवकों ने नशीला पदार्थ खिलाकर महिला आरक्षक का अपहरण किया फिर बंधक बनाकर एक युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया. आरोपियों ने महिला आरक्षक के भाई को जान से मारने की धमकी दी थी, लेकिन आज थाने पहुंचकर महिला आरक्षक ने शिकायत की है.महिला आरक्षक को बंदी बनाकर 6 लोगों ने किया दुष्कर्मदरसअल ग्वालियर के कंपू थाना क्षेत्र से 27 दिसंबर 2019 को शहर के थाने में पदस्थ महिला आरक्षक का केआरजी कॉलेज के तिराहे से 6 युवकों ने नशीला पदार्थ सुंघाकर अपहरण कर लिया था, जिसके बाद उसे कार में ले जाकर एक कमरे में बंधक बना लिया और बंधक बनाकर एक युवक ने महिला आरक्षक के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.डरी सहमी महिला आरक्षक कई दिनों तक शांत रही, लेकिन आज शनिवार की शाम वो थाने जा पहुंची, जहां उसने अपने साथ हुई आपबीती को पुलिस को सुनाया और शिकायत दर्ज करा

इंदौर में घातक रसायन से बनाई जा रही थी नकली दवाएं,सरकारी अस्पताल में भी सप्लाई

Image
इंदौर(मप्र) इंदौर शहर में नकली दवा (Fake medicine) बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया गया है. इस कारखाने में सोनामिंट और सोडामिंट टेबलेट्स सोडियम बायकार्बोनेट जैसे घातक रसायन से बनाई जा रही थीं. ये दवाइयां प्रदेश के सरकारी अस्पतालों और इंदौर के दवा बाज़ार में खपाई जा रही थीं. जानकारी के मुताबिक, यह गोरखधंधा 20 साल से चल रहा था. फैक्ट्री चाचा-भतीजा मिलकर चला रहे थे. क्राइम ब्रांच,आयुष विभाग और ड्रग्स विभाग की संयुक्त टीम ने आरोपी फैक्ट्री संचालक और कर्मचारी को गिरफ्तार कर कारखाना सील कर दिया है.प्रदेश भर में चलाए जा रहे 'शुद्ध के लिए युद्ध' अभियान के तहत बड़ी कार्रवाई की गई है. इंदौर पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम को मुखबिर से सूचना मिली थी कि मकान नंबर 35 (शिक्षक नगर) में एक व्यक्ति मिलावटी दवाई बनाने का काम करता है. उसी जगह फैक्ट्री भी है. इसके बाद इंदौर पुलिस क्राइम ब्रांच,आयुष विभाग, ड्रग्स विभाग,थाना हातोद और थाना एरोड्रम की एक संयुक्त टीम बनायी गई. टीम ने मौके पर पहुंचकर दबिश दी. मौके पर दो लोग मिले जिन्‍होंने अपना नाम संतोष पिता साहिबराव पाटिल उम्र 38 साल निवास 102 धर्मर

12 जनवरी को आयोजित PSC परीक्षा में ठंड में टोपी, मफलर, शाल आदि भी नही पहन सकेंगे परीक्षार्थी, चेकिंग के बाद जूते /मोजे  पहन सकेंगे, आयोग के निर्देश जारी

▪प्रत्येक परीक्षा कक्ष में एक घड़ी लगाई जाए। ▪दिव्यांग परीक्षार्थियों के लिए भू-तल पर परीक्षा देने के लिए व्यवस्था करने के निर्देश ▪परीक्षा कक्ष में कोई भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाईस का प्रवेश पूर्णतः वर्जित,  ▪ठंड के मौसम को देखते हुए एवं आयोग से प्राप्त निर्देषों के अनुसार परीक्षार्थी जूते-मोजे पहनकर अंदर तो जा सकता है किन्तु पूरी जांच करानी होगी।  ▪परीक्षा कक्ष में स्कार्फ़ टोपी, शाल , मफलर को भी परीक्षार्थी परीक्षा कक्ष में उपयोग नहीं कर सकेंगे।  ▪नकल प्रकरण यदि कोई परीक्षार्थी आपस में बात करता है तब भी बनाए जा सकते है।  ▪केन्द्राध्यक्ष एवं आब्जर्बर के अतिरिक्त कोई भी शासकीय कर्मचारी एवं परीक्षार्थियों का मोबाईल ले जाना प्रतिबंधित रहेगा।   ▪परीक्षार्थी को ओएमआर शीट प्राप्त करने के पश्चात परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष से बाहर जाने की अनुमति नहीं रहेगी। ▪परीक्षार्थिंयों को केवल काला डाट पेन ही लेकर परीक्षा कक्ष में जाने के निर्देश है। ▪परीक्षार्थिंयों से आयोग द्वारा जारी प्रवेश पत्र में आवेदक की फोटो जो चस्पा है उसी फोटो के परिचय पत्र एवं आधारकार्ड की मूल प्रति लेकर उपस्थित हों।   ▪अस्पष्ट फोट

भोपाल ईओडब्ल्यू का तीन गुटखा कंपनियो पर छापा

  ईओडब्ल्यू की गुटखा कंपनियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही।  ईओ डब्ल्यू ने तीन गुटखा कंपनियों के गोविंदपुरा स्थित फैक्ट्रियों पर मारा छापा। देर रात शुरू की कार्यवाही अब भी जारी। सुबह 4.30 बजे SP अरुण मिश्रा के नेतृत्व में पहुंच गई थी टीम  राजश्री, कमलापसंद और ब्लैक लेबल गुटखा कंपनियों के ठिकानों पर छापे छापे के दौरान कारखानों में बाल श्रम और करोड़ों रुपए के टैक्स चोरी का मामला सामने आया है ।  ईओडब्लू बीते 1 महीने से कर रहा था इन कंपनियों के खिलाफ कार्यवाही करने की तैयारी ।  मुख्यमंत्री कमलनाथ की हरी झंडी मिलने के बाद जांच एजेंसी ने की कार्यवाही।

पूर्व  प्रतिपक्ष नेता अजय सिंह राहुल भैया ने किया डॉ भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का लोकार्पण

Image
सतना। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल भैया ने सतना जिले के रैगॉव में संविधान विसेसज्ञ डॉ भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का लोकार्पण किया।साथ ही ग्रामपंचायत रैगॉव के निर्माण कार्यो का भी लोकार्पण किया।  विंध्य छेत्र ही नही मध्यप्रदेश के कद्दावर नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल भैया के रेगॉव आगमन से जिले की जनता बड़ी संख्या में उपस्थित थी तथा आस पास के ग्रामीण क्षेत्रों की जनता उनकी एक झलक पाने के लिए बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रही थी।ऐसा काफी समय से वहां की जनता उनके इंतजार में बैठी रही। राहुल भैया के समर्थक पिछले दिनों सतना में हुए एक कार्यक्रम के पश्चात से उनके समर्थकों में आक्रोश जैसे माहौल व्याप्त हो गया था। उनके चाहने वालों में राहुल भैया की एक झलक पाने के लिए बेचैनी सी महसूस कर रहे थे।ऐसा सूत्रों के द्वारा जानकारी प्राप्त हो रही थी कि जल्द ही रेगॉव विधानसभा क्षेत्र में नवनिर्मित भवन एवं मूर्ती का शिलान्यास किया जयेगा।और मुख्य अतिथि राहुल भैया के हांथो आज भव्य आयोजन कर डॉ भीमराव अंबेडकर जी की मूर्ति का अनावरण किया।जिसमें चित्रकूट विधानसभा कांग्रेस पार्टी के युवा विधायक नीलांसु चतुर्वेदी।प

घटना के 22 घंटे बाद, वरिष्ठ अधिकारियों के हस्ताक्षेप पर कायम हुआ मुकदमा ।

देखना होगा की दबंगों एवं माफिआओ को संरक्षण देने के लिए चर्चा मे चल रहे थाना प्रभारी बदेरा, क्या दबंगों पर कर सकेंगे कानूनी कार्यवाही ? ✍🏻सतना उमारिया मार्ग पर  भदनपुर चेक पोस्ट टोल नाका अब अपराधियो का गढ़ बन चुका है, जंहा राहगीरों के साथ मारपीट एवं लूटपाट अब आम बात हो गई है । ऐसा ही एक मामला विगत दो दिन पूर्व सामने आया । जिसमे घटना के तकरीबन 22 घंटे गुजरने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के हस्ताक्षेप के पर आख़िरकार बदेरा पुलिस ने मामले की सूचना दर्ज की !  मामले के संबंध मे सूत्र बताते है कि आरोपियो को बदेरा थाना प्रभारी का अप्रत्यक्ष संरक्षण प्राप्त  है जिसके चलते मारपीट व लूटपाट की घटना को अंजाम देने के बावजूद शिकायत कर्ताओं को केवल अपनी रिपोर्ट दर्ज करवाने वरिष्ट अधिकारियो से न्याय के लिए विनती करनी पड़ी, हलांकि ऐसे कई मामले है जहां बदेरा थाना प्रभारी द्वारा आरोपियों को खुली छूट के चलते बल मिला है फिर चाहे वो पेट्रोल टंकी के कर्मचारी से मारपीट का मामला हो या अन्य मामले बदेरा थाना प्रभारी प्रभाव के चलते सबके मददगार के तौर पर चर्चा मे है ! यही कारण रहा की लोगो को न्याय के लिए वरिष्ठ अधि

ADG राजीव त्रिवेदी (सिकन्द्राबाद/हैदराबाद) आन्द्र प्रदेश के परिवार से चैन स्नेचिंग करने वाला आरोपी मझगवां में गिरफ्तार।

Image
✍आंद्रा प्रदेश के गुंटूर जिले के नई कुंडी थाना क्षेत्र में 6 माह पूर्व हैदराबाद/सिकन्द्राबाद से उत्तर प्रदेश जाने वाली ट्रेन में सिकन्द्राबाद के ADG राजीव त्रिवेदी की पत्नी के गले से 8 तोला की चैन अज्ञात बदमाशों ने स्नेचिंग कर ली थी। जिस पर थाना नई कुंडी में अपराध क्र. 33/19 धारा  356, 379 IPC पंजीबद्ध हुआ था। विवेचना दौरान आंद्रा पुलिस सतना आई थी, ओर मझगवां पुलिस टीम के सहयोग से तीन चैन स्नैचर 1,विज्जु गुप्ता 2, आशीष मंजा टिकुरिया टोला एवं 3, वीरू सिंह नकैला को पकड़ा जिनके कब्जे से खिंची हुई चैन बरामद हुई। तथा हैदराबाद में ही ट्रैन में एक ओर चैन स्नेचिंग करने का अपराध भी कबुल किया हैं। बदमाशो ने सतना जिले में ही अलग - अलग स्थानों पर चैन बेचना बताया है ।

एंटी माफिया अभियान: रीवा संभाग में 150 भू-माफिया की लिस्ट तैयार, सतना में सर्वाधिक 80 मिले

Image
सतना/रीवा ✍ सरकार के एंटी माफिया अभियान के तहत संभाग में 150 भू-माफिया की लिस्ट तैयार कर ली गई है। सतना कलेक्टर ने 80 से अधिक भू-माफिया को चिह्नित किया है जबकि रीवा कलेक्टर महज 26 भू-माफिया की लिस्ट तैयार कर सके हैं। सिंगरौली ने 21 और सीधी ने 2 से अधिक भू-माफिया चिह्नित किए हैं। संभाग में भू-माफिया के खिलाफ अब तक अफसरों की कार्रवाई भी हवा-हवाई रही। सतना को छोड़ दें तो रीवा, सीधी और सिंगरौली में एक भी ठोस कार्रवाई नहीं हो सकी है। माफिया के खिलाफ अफसर कार्यालय में बैठे माहौल बनाते रहे गए। मुख्यमंत्री की आगामी 3 जनवरी को होने वाली समीक्षा बैठक की तैयारी के दौरान रीवा, सतना, सीधी और सिंगरौली जिले से शासन को भेजी गई जानकारी के अनुसार भू-माफिया पर शिकंजा कसने में रीवा, सीधी और सिंगरौली फिसड्डी रहे। सतना के अफसरों ने अब तक छोटे-बड़े मिलाकर 350 से अधिक अवैध अतिक्रमण और निर्माण ध्वस्त कर दिए। खनिज माफिया पर कार्रवाई में सतना फिसड्डी संभाग में खनिज माफिया के खिलाफ कार्रवाई में रीवा अव्वल है। रीवा में 270 खनिज के अवैध मामले चिह्नित किए गए हैं। सीधी में 4 से अधिक खनिज माफिया को चिह्नित किया गया ह