पैदल यात्रा निकाल रहे 2 कांग्रेस विधायक को पुलिस ऐसे ले गयी

Apna Lakshya News 


उज्जैन। शहर के महाकाल मंदिर के बाहर बुधवार सुबह उस समय हंगामा मच गया, जब लॉकडाउन के दौरान कांग्रेस के विधायक महेश परमार और विधायक मनोज चावला को पुलिस ने उनके समर्थकों सहित गिरफ्तार कर लिया। दोनों विधायक भाजपा सरकार की नाकामी को लेकर भोपाल तक किसान मजदूर अन्याय यात्रा निकालना चाह रहे थे। पुलिस ने हाथ-पैर पकड़कर विधायकों को गाड़ी में बिठाया।



कांग्रेस के तराना विधायक महेश परमार और आलोट विधानसभा सीट से विधायक मनोज चावला अपने पांच समर्थकों के साथ भगवान महाकाल के दर्शन कर भोपाल के लिए पैदल यात्रा निकालना चाह रहे थे, जिसकी उन्होंने अनुमति भी ली थी। कांग्रेस के विधायकों और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने महाकाल मंदिर से आगे जाने से रोक दिया।


इस बात से नाराज विधायक कार्यकर्ताओं के साथ मंदिर के सामने ही धरने पर बैठ गए। विधायकों का कहना था कि उन्होंने कोई गुनाह नहीं किया है। प्रशासन चाहे तो वह उन्हें गोली मार दे, लेकिन वह पैदल यात्रा निकाल कर ही रहेंगे। विधायकों की जिद को देखते हुए पुलिस-प्रशासन ने उन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन दोनों ही विधायक यात्रा निकालने की बात को लेकर अड़े रहे।


आखिरकार प्रशासन ने धारा 144 सहित कर्फ्यू के उल्लंघन की धाराओं में केस दर्ज कर सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर केंद्रीय भेरूगढ़ जेल भेज दिया। इस बीच पुलिस ने दोनों विधायकों को चलने को कहा तो वे उठने को तैयार नहीं थे। इसके बाद पुलिस ने हाथ-पैर पकड़कर उन्हें पुलिस वैन में जबरन बिठा दिया।