किसानों की बर्बादी का मुद्दा लोकसभा में उठाया - सांसद गणेश सिंह


    आज लोकसभा में शून्यकाल के दौरान सतना सांसद श्री गणेष सिंह ने सतना सहित मध्य प्रदेष के सभी जिलों के पीड़ित किसानो के मुद्दे को उठाते हुये कहा कि देश का किसान लगातार प्राकृतिक आपदा से जूझ रहा है। अतिवृष्टि से मूंग, सोयाबीन, तथा तिल की फसलों को भारी नुकसान हुआ है। धान की फसलों में कन्डो नाम की गंभीर बीमारी लगने से धान की फसलों को भारी नुकसान हुआ है। पूरे प्रदेश का किसान अत्यन्त दुखी है, दुर्भाग्य है कि राज्य सरकार द्वारा सहायता देना तो दूर फसलों के नुकसान का सर्वे तक नही कराया। अतिवृष्टि से जिन गरीबों के घर गिर गये थे उन्हें भी सहायता नही मिली। प्रधानमंत्री सम्मान निधि जो प्रत्येक किसान को 6-6 हजार रूपये मिलनी चाहिये, राज्य सरकार की लापरवाही के चलते किसानों के नाम नही भेजे गये जिसके चलते किसान प्रधानमंत्री सम्मान निधि से भी वंचित रह गये। फसलों के नुकसान का सर्वे किये जाने हेतु केन्द्र सरकार ने सर्वे दल भेजा था किन्तु राज्य सरकार ने अभी तक सर्वे नही कराया। किसानो में बड़ा आक्रोष है। मै अध्यक्ष महोदय आपके माध्यम से भारत सरकार के कृषि एवं गृह मंत्रालय से मांग करता हॅूं कि प्रदेश के किसानो की सहायता हेतु राज्य सरकार को तत्काल निर्देश दे ताकि किसानों की फसलों के नुकसान की भरपाई की जा सके।                                                        कार्यालय सचिव, सांसद कार्यालय