कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

Apna Lakshya News 


By: Chandan Kewat


कोतमा/ अनूपपुर जिले में कोने कोने में राजश्री और अन्य उत्पादों पर जबरदस्त बाजार गर्म है।पिछले लगभग डेढ़ से दो महीनों में आम जन अपने घरों पर बैठकर अपनी आमदनी का साधन पूर्णतया बन्द कर लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं और इसी लॉक डाउन में बड़े व्यापारी अपनी जेबें भरने में इस कदर मशगूल हैं कि किसी वस्तु की वास्तविक कीमत और बिक्री की जाने वाली कीमत पर मेल करने की आवश्यकता ही समझ रहे हैं।



कोतमा में कई उत्पाद जैसे गुड़ाखू, बीड़ी ,सिगरेट ,राजश्री व अन्य गुटखा उत्पादों की वास्तविक कीमत तो उपभोक्ता और दुकानदार पूरी तरह भूल ही गए हैं और मनमाने तरीके से दो गुने या उससे भी अधिक दामो पर बेच रहे हैं।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जनता प्रोविजन कोतमा के द्वारा बड़े पैमाने पर लॉक डाउन में राजश्री गुटखा की कालाबाज़ारी की जा रही है,कई छोटे दुकानदारों और कई उपभोक्ताओं को यहां से दोगुने या उससे भी अधिक कीमत पर राजश्री उपलब्ध कराई जाती है।अब इन व्यापारियों की ऐसी कौन सी मजबूरी है, जिसके कारण इन उत्पादों को दोगुने या उससे भी अधिक कीमत पर बेचना पड़ रहा है।उपभोक्ताओं को इन उत्पादों की लत इस कदर है कि इन उत्पादों के लिए दो गुने और उससे भी अधिक कीमत देने को तैयार हैं।खाद्य सामग्री और अन्य आवश्यक सामग्रियों पर तो किसी भी प्रकार की अनियमितता होने पर तुरंत छापेमारी कर कार्यवाही की गई, लेकिन इन उत्पादों पर किसी प्रकार की कार्यवाही की स्थिति अब तक नहीं हुई है, यही कारण है कि इन व्यापारियों के हौसले बुलंद हैं और मनमाने ढंग से उत्पादों की बिक्री की जा रही है।


 इनका कहना है


हम बेंचते तो हैं लेकिन हम 100 की चीज को 300 में बेंचते हैं, ये हम कैमरे में नहीं बोल सकते हैं।पहले पूरे व्यापारी एकत्रित हो ,और आप सबकी बाइट कीजिए।इसमें जो मुख्य व्यापारी हैं,उनको पकड़िए।आप भी जानते हैं कि इन सब चीजों का बिल वगैरह नहीं मिलता है और आप केवल राजश्री का मुद्दा उठा रहे हैं और गुड़ाखू ,बीड़ी वगैरह तो निर्धारित कीमत से तीन से छः गुने तक बेंचे जा रहे हैं।


            जनता प्रोविजन,कोतमा


Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

3 जिले पूरी तरह सील, 11 जिलों में टोटल लॉकडाउन, बाहर निकले तो होगी FIR

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,