365 रानियों का इकलौता पति था ये राजा, रात गुजारने के लिए ऐसे करता था फैसला

Apna Lakshya News


 


ये बात लगभग सभी लोग जानते हैं कि अग्रेजों से पहले हमारे देश में राजा-महाराजाओं का राज होता था। राजाओं के अपने जीने का तरीका होता था। यहां तक कि वो एक-दो नहीं, बल्कि कई शादियां करते थे। ऐसे ही एक राजा थे भूपेंज्र सिंह महाराज, जिनकी 365 रानियां थी। चलिए इनके बारे में आपको खास बातें बताते हैं।



राजा की 365 रानियां थी


भूपेंद्र सिंह ने पटियाला पर राज किया। उन्होंने साल 1900 से लेकर 1938 तक राज किया। इस दौरान उन्होंने कई बड़े फैसले भी लिए। वहीं उनकी कुल 365 रानियां थी, जिनके लिए उन्होंने अलग-अलग कई भव्य महल बनवा रखे थे। लेकिन सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि वो कुछ अलग तरीके से इस बात का फैसला करते थे कि उन्हें कौन सी रानी के साथ कब रात गुजरानी है।



ऐसे करते थे फैसला


दरअसल, राजा के महल में कई सारे लालटेन जलाए जाते थे। लेकिन सबसे खास बात ये थी कि अपनी 365 रानियों के लिए वो अलग से लालटेन जलवाते थे। इन लालटेन में सभी रानियों के नाम होते थे। वहीं ये लालटेन रात भर जलती थी और जब सुबह जो लालटेन सबसे पहले बुझती थी, उस लालटेन में लिखे नाम को राजा पढ़ते थे और फिर वो उस रानी के साथ आने वाली रात बिताते थे। ये तरीका आज भी हर किसी को हैरान करता है।



 


 


https://apnalakshya.page/if2TNH.html