आबकारी विभाग में जारी भ्रष्ट अधिकारियों और सत्ता पक्ष का गठजोड़ आया सामन

मंडला जिला आबकारी अधिकारी इंद्रेश तिवारी और मंडला जिला कांग्रेस अध्यक्ष संजय सिंह परिहार का ऑडियो हुआ लीक,


ऑडियो में पैसों के लेनदेन और शराब के अवैध कारोबारी पार्षद को सहयोग करने की बातचीत ऑडियो में कांग्रेस नेता को 15 हजार और विधायक को ₹50 हजार देने की बात भी कांग्रेस जिला अध्यक्ष कर रहा है अवैध शराब कारोबार में लिप्त पार्षद की पैरवी.


 आडियो में जिला अध्यक्ष परिहार कह रहा है कि पार्षद को परेशान मत करो कमलनाथ जी की सरकार है पार्षद ने विपक्ष में रहते हुए 15 साल मेहनत की है उसे मैं आपके पास भेजता हूँ.आबकारी अधिकारी इंद्रेश तिवारी ने भी ऑडियो में स्थानीय सिंडिकेट कर्ता-धर्ता राजेश पटेल का नाम लिया और बैक डेट के लेटर के आधार पर कारवाई करने की बात कही सरकारी कार्यालय में बैक डेट पर कारवाई करना गम्भीर अपराध बातचीत में गजेंद्र सिंह बर्वे उर्फ गज्जू हेड क्लर्क मंडल आबकारी कार्यालय का भी जिक्र पिछले 17 सालों से मंडला में पदस्थ है गजेंद्र सिंह बर्वे इन्द्रेश तिवारी हटाने के लिए कांग्रेश जिला अध्यक्ष परिहार और विधायक पहले चलाया था अभियान और प्रभारी मंत्री को दिया था ज्ञापन इंद्रेश तिवारी विवादित अधिकारी, जबलपुर में पदस्थ आबकारी सहायक आयुक्त एसएन दुबे के साथ नाम आया था मीडिया की सुर्खियों में इन दोनों अधिकारियों एसएन दुबे और इंद्रेश तिवारी को जबलपुर में एक साथ किया गया था पदस्थ। दोनों अधिकारी जबलपुर से पहले छिंदवाड़ा में थे साथ में। इन दोनों अधिकारियों को हटाने के लिए जबलपुर के पूर्व दो कलेक्टरों ने राज्य सरकार को लिखा था पत्र।