अमेरिका ने PAK से पूछा- आपको मुसलमानों की चिंता सिर्फ कश्मीर में क्यों, चीन में क्यों नहीं?

Apna Lakshya News



अमेरिका ने पाकिस्तान से पूछा है कि आप सिर्फ कश्मीर में मानवाधिकार के मामलों को लेकर चिंतित हैं लेकिन पूरे चीन में मुसलमान लगातार जिस भयावह हालात मे हैं, उनपर आप कभी बात नहीं करते.
 चीन में मुसलमानों के भयावह हालात पर क्यों नहीं होती बातमुसलमानों के मानवाधिकारों की चिंता अधिक विस्तार मांगती है
कश्मीर मसले को अंतरराष्ट्रीय बनाने की कोशिश कर रहे पाकिस्तान को अमेरिका ने करारा झटका दिया है. अमेरिका ने पाकिस्तान से पूछा ​है कि आपको सिर्फ कश्मीर के मुसलमानों की चिंता क्यों ​है, चीन के मुसलमानों की चिंता क्यों नहीं है?


अमेरिका ने पाकिस्तान से पूछा है कि आप सिर्फ कश्मीर में मानवाधिकार के मामलों को लेकर चिंतित हैं लेकिन पूरे चीन में मुसलमान लगातार जिस 'भयावह हालात' मे हैं, उनपर आप कभी बात नहीं करते.



दक्षिण और मध्य एशिया में अमेरिका के कार्यकारी असिस्टेंट सेक्रेटरी एलिस वेल्स ने संयुक्त राष्ट्र संघ की 74वीं जनरल असेंबली को संबोधित करते हुए पाकिस्तान की आलोचना की. उन्होंने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के चीन के खिलाफ कोई आवाज नहीं उठाने को लेकर सवाल किए. एलिस वेल्स ने कहा कि चीन के जिनजियांग प्रांत में करीब 10 लाख मुसलमानों को बंदी बनाया गया, लेकिन पाकिस्तान वह मसला कभी नहीं उठाता.