बलात्कार के आरोपियों को भोपाल में पुलिस ने त्वरित कार्यवाही कर 24 घण्टे में किया गिरफ्तार

भोपाल - थाना ईंटखेड़ी पर पंजीबद्ध अपराध क्रमांक 307/19 धारा 376,376(2)N, 506,354 भा.द.वि. के आरोपिगण- 1.नरेन्द्र मीणा 2.जी.एस.वर्मा (गजराजसिंह वर्मा) की गिरफ्तारी हेतु उप पुलिस महानिरीक्षक शहर रेंज भोपाल श्री इरशाद वली द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों के पालन में पुलिस अधीक्षक महोदय (उत्तर) भोपाल श्री शैलेन्द्र सिंह चौहान, अति.पुलिस अधीक्षक जोन-4 श्री दिनेश कुमार कौशल,  SDO(P) बैरसिया संभाग श्री अंकित जायसवाल के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी ईंटखेड़ी- श्री पंकज गीते की टीम द्वारा कढ़ी मेहनत कर प्रकरण के आरोपीगण 1.नरेन्द्र मीणा  2.जी.एस. वर्मा (गजराजसिंह वर्मा) को गिरफ्तार किया गया है।


घटना का विवरण - दिनांक 15/09/2019 को आवेदिका निवासी इलाहाबाद (उ.प्र.) हाल लालघाटी भोपाल ने थाना उपस्थित होकर एक लिखित आवेदन पत्र प्रस्तुत किया, जिसमें बताया कि मेरी नरेन्द्र मीणा से रांग नम्बर(गलत नम्बर) से द्वारा बात हुई थी, नरेन्द्र मीणा ने मुझे प्रेम और शादी का झांसा इलाहाबाद से भोपाल बुलाया और बैधनाथ कालोनी लाम्बाखेडा भोपाल मे किराया के फ्लेट में रखा और मेरी मरजी के बिना शरीरिक सबंध बनाये। मुझसे नरेन्द्र मीणा ने अभी तक शादी भी नहीं की है। मैने उसे रिपोर्ट करने का बोला तो जान से मारने की धमकी दिया। नरेन्द्र मीणा का दोस्ता जी.एस.वर्मा ने मुझे बुरी नियत से पकडा और जबदस्ती करने की कोशिश की थी। मैने अपने आप को छोडाकर और घर से भाग गई। नरेन्द्र मीणा मुझे शादी का झासा देकर मेरे साथ 18-4-2018 से 19-7-2019 तक शरिरीक सबंध बनाये है और फिर छोडकर चला गया अभी तक वापस नही आया है। रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 307/19 धारा 376,376(2)N, 506,354 भा.द.वि. का आरोपिगण- 1. नरेन्द्र मीणा  2.जी.एस. वर्मा (गजराजसिंह वर्मा) के विरुद्ध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।   


गिरफ्तार आरोपीगण:-



1.नरेन्द्र मीणा पिता मनसाराम नीणा उम्र 53 साल निवासी म.नं.02 पुरुषोत्म नगर सेमरा थाना बजरिया जिला भोपाल स्थाई पता- ग्राम पीलूखेड़ी थाना कुरावर जिला राजगढ़ (म.प्र.)।


2.जी.एस.वर्मा उर्फ गजराज सिंह पिता अनोखीलाल उम्र 40 वर्ष निवासी मोहम्मदपुर पखानी थाना आष्टा जिला सीहोर।


 उपरोक्त सफलता प्राप्त करने में थाना प्रभारी ईंटखेड़ी निरी.पंकज गीते व टीम में लगे अधिकारी उनि कविता उईके, उनि मुकेश कनासिया, सउनि रामचरण यादव, प्र.आर.उमाशंकर शर्मा, आरक्षक मलखान दांगी, आरक्षक  मनोज वर्मा, आरक्षक गिरीश राठौर, आरक्षक धनीराम की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।