जिला परिवहन कार्यालय बना चढोत्री का अड्डा

APNA LAKSHYA NEWS


जिलापरिवाहन अधिकारी व बाबुओं की मिलीभगत से कार्यलय के अंदर रूम नम्बर 1,3,4,5,6 में विधिवत तौर पर बैठे लोग आम जनों से करते है पैसों की उगाही
"""""""""""""""”"""""""""""""""""
प्राइवेट सेक्टर के लोग चला रहे जिला परिवहन कार्यालय  प्राइवेट सेक्टर के लोग जिलापरिवहन अधिकारी के पेर्शनल एजेंट?
बड़ा सवाल
स्थानातरित सीधी जिलापरिवहन अधिकारी श्रीमती कृतिका मोहटा जी का कहना है......!!!!! कि अभी तक नए जिला परिवहन अधिकारी यच.यल.सेमरिया का आगमन सीधी जिला मुख्यालय में नही हुआ तो अक्षत रेसीडेंसी में नवागत जिलापरिवहन अधिकारी के नाम पर रूम लेकर रहने वाला व्यक्ति कौन???


सीधी जिले में इस समय जिला परिवहन कार्यालय बना आर टी ओ के पर्शनल एजेंटों व दलालो का आड़ा बना हुआ है जिला परिवहन अधिकारी के स्थानांतरण के बाद भी नवीन जिलापरिवहन अधिकारी को नही दिया  जा रहा प्रभार,जनकारी के मुताबिक नवीन जिला परिवहन अधिकारी का एक दिन जिलापरिवहन कार्यालय का निरीक्षण कर पदभार ग्रहण करने की बात कही गई किन्तु वर्तमान जिलापरिवहन अधिकारी द्वारा कुछ पेंडिंग कार्य निपटने की मोहलत मांगी गई और होटल अक्षत रेसीडेंसी में रुकने विधिवत व्यस्था की गई किंतु आज दिनांक तक नवीन जिलापरिवहन अधिकारी का डेरा पदभार ग्रहण करने की आशा में अभी तक होटल में डला हुआ है किंतु आज दिनांक तक न तो स्थानांतरित जिलापरिवहन अधिकारी का पेडिंग कार्य पूर्ण हुआ और न ही नवीन जिला परिवहन अधिकारी को प्रभार? अब देखना यह है कि कब तक यह आंखमिचौली का खेल मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार से चल पाता हैं ये तो आने वाला समय ही बताए गा!



क्योंकि जो अधिकार के जिला परिवहन कार्यालय सीधी में रहने चाहिए तो उनके द्वारा बिभाग भी दूरी बनाए हुए हैं ।लेकिन सुश्री महिला अधिकारी होने के कारण आपने पदों के दुर्प्रयोग कर रही है , जिला परिवहन अधिकारी  महिला होने के साथ अपन पर्शनले एजेंटों के रूम नम्बर 1,3,4,5,6 दलालों को मजबूत करने में लगे हुए हैं  लायसेंसं के लिए लोगों ने कई दिनों से चक्कर कट रहें हैं ।जो समय में न तो परमिट दिया जाता हैं न ही समय में लायसेंस दिया जाता हैं ।
जिसमें स्मार्ट चिप सेंटर के जीतेन्द्र नाम के बैठे बिभाग में पूरे खेल करते रहते हैं ।कम्प्यूटर के फोटो के लिए लाइन में भी लोगों के तते लगे रहते हैं । और जिला परिवहन अधिकारी व बाबू की मिली भगत से चल रहा खेल विधिवत वसूली 
 की जा रही है 


इधर बाहर प्राइवेट के साथ आपने दूकनो में भी लोगों के नाम आपने दूकनों में मोटे अक्षरों से नाम लिखे हुए ?
 जिला परिवहन अधिकारी के स्थानांतरण होने के बाद भी नहीं गई है ।सीधी जिले में आपने दलालों के माध्यम से जिले को लूटने में शामिल के चर्चाएँ हुई तेज सीधी जिले में बनी हुईं हैं ।


  बाइट-- पूर्व की बाइट जिला  परिवहन'  अधिकारी जो स्थानांतरण होने के बाद कह रही है की कोई अधिकार अभी तक आते ही नहीं है ।


जब की जो अधिकारी सीधी जिले में जिला परिवहन कार्यालय सीधी में आपने ज्वाइन भी कर चुके हैं ।लेकिन महिला अधिकारी होने के साथ पदों के दुर्प्रयोग कर रही है ? क्या जिला कलेक्टर सीधी रवीन्द्र कुमार चौधरी व मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलानाथ सिंह इस ओर कभी ध्यान देंगे या नहीं ।सीधी जिला के जनता कब तक लूटती रहें कौन होगा इसके जुम्मेदार जिला प्रशासन की सरकार ।