मध्य प्रदेश में बारिश का कहर जारी है। प्रदेश में बारिश से इस साल अबतक 202 लोगों की मौत हो चुकी है।

मध्य प्रदेश में बारिश का कहर जारी है। प्रदेश में बारिश से इस साल अबतक 202 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में मानसून सक्रिय और पश्चिमी मध्य प्रदेश में प्रबल रहा है। भारी बारिश को देखते हुए इंदौर-उज्जैन सहित 8 जिलों में प्रशासन ने स्कूलों की छुटट्टी का ऐलान किया है। मौसम विभाग ने प्रदेश के 35 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है।



मौसम विभाग के मुताबिक आज होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, भोपाल, रायसेन, राजगढ, विदिशा, सीहोर, सागर, दमोह, पन्ना, टीकमगढ़, छतरपुर, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, इंदौर, धार, खंडवा, खरगोन, अलीराजपुर, झाबुआ, बडवानी, बुरहानपुर, अनूपपुर, डिंडोरी, उमरिया, शहडोल, उज्जैन, रतलाम, देवास, शाजापुर, आगर, नीमच, मंदसौर, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, बालाघाट, छिंदवाडा, सिवनी, मंडला, श्योपुर, भिंड और मुरैना में भारी बारिश की संभावना है।



भारी बारिश की चेतावनी के चलते इंदौर, रतलाम, उज्जैन, खंडवा, अलीराजपुर, उमरिया, खरगोन और गुना के स्कूलों में जिला प्रशासन ने छुट्टी का एलान किया। बताया गया है कि आगामी 24 घंटों में इन क्षेत्रों में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है।


मौसम वैज्ञानिक जी। डी। मिश्रा बताया, "जिन क्षेत्रों के लिए आरेंज अलर्ट जारी किया गया है, वहां 24 घंटों के दौरान 64 मिलीमीटर से 204 मिलीमीटर के बीच बारिश हो सकती है। आरेंज अलर्ट का आशय है भारी से अति भारी बारिश होता है