पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल को नोटिस मिलने पर हड़कंप, हरकत में आई भाजपा,  रीवा से लेकर भोपाल तक निगमायुक्त का विरोध

Apna Lakshya News


 


रीवा : पूर्व मंत्री और रीवा विधायक राजेंद्र शु ला के खिलाफ जारी 4.95 करोड़ रुपये के नोटिस पर शुक्रवार को रीवा से लेकर राजधानी भोपाल तक उबल उठा। सिरमौर चौराहे पर भाजपाइयों ने सड़क पर उतरकर निगमायुक्त सभाजीत यादव को कांग्रेसी एजेंट करार देते हुए उनका पुतला फूंका। पुतला दहन से पहले पुतले के मुंह में कालिख लगाकर जूतों की माला पहनाकर युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने सभाजीत यादव मुर्दाबाद, नगर का विकास शुरू करो के नारे लगाकर अपना आक्रोश जताया। जनसभा में सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी और निगम स्पीकर सतीश सोनी ने जमकर हमला बोला। विधायक राजेंद्र शु ला को जारी नोटिस पर भाजपाई विधायक नरोाम मिश्रा भी उनके समर्थन आ गए। मुयमंत्री सचिवालय के अफसरों में नोटिसबाजी को लेकर नाराजगी दिखी। 



भ्रस्टाचार का मसीहा हैं निगम कमिश्नर :


केपी त्रिपाठी शुक्रवार को निगम आयुक्त सभाजीत यादव के फरमानों के खिलाफ भाजयुमो ने सिरमौर चौराहे में जनसभा कर प्रदर्शन किया। युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने नगर निगम आयुक्त सभाजीत यादव का पुतला दहन किया। प्रदर्शन को संबोधित करते हुए सेमरिया विधायक केपी त्रिपाठी ने कमिश्नर नगर निगम को भ्रष्टाचार का मसीहा बताते हुए कहा कि एक तो करैला वह भी नीम चढ़ा कि कहावत को चरितार्थ कर रहे नगर निगम आयुक्त। रीवा नगर निगम के सभी विकास कार्य कमीशन नहीं मिलने पर बंद कर दिए हैं। योजना क्रमांक 6 के रहवासियों को हजारों करोड़ का भ्रष्टाचार बताकर पैसा ऐंठने के फिराक में क्षेत्र का भ्रमण कर जनता को भय दिखा रहे हैं। उन्होंने कमलनाथ सरकार को सचेत करते हुए कहा, रीवा में दो हजार से अधिक प्रधानमंत्री आवास बनकर तैयार हो चुके हैं। कमीशन खाने के लिए कांग्रेस सरकार और सभाजीत यादव उसका आवंटन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा, भ्रष्टाचार की सभी मर्यादाएं तार-तार हो रही हैं।



सीएम कमलनाथ राहुल को भेजें 50 हजार करोड़ का नोटिस
दतिया से भाजपा के विधायक एवं पूर्व मंत्री नरोाम मिश्रा ने मुयमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधते हुए मांग की है चुनावी वादे नहीं निभाने पर नेताओं की कार्रवाई की परंपरा की शुरुआत राहुल गांधी से करें, और उन्हें 50 हजार करोड़ का नोटिस भेजें।