घर में इस जगह रखें मोर पंख - दूर होगी हर परेशानियां

Apna Lakshya News


 


मोर का नाम आते ही सबके मन में उसके खूबसूरत दृश्य नजर आने लगते हैं। मोर बेहद खूबसूरत पंछी है। ज्योतिष, वास्तु, धर्म, पुराण और संस्कृति में मोर का अत्यधिक महत्व माना गया है। मोर पंख घर में रखने से अमंगल टल जाता है। जितना खूबसूरत यह दिखता है उतने ही खूबसूरत फायदे इसके पंखों के भी हैं। हमारे देवी -दवताओं को भी यह अत्यंत प्रिय हैं।



मां सरस्वती, श्रीकृष्ण, मां लक्ष्मी, इन्द्र देव, कार्तिकेय, श्री गणेश सभी को मोर पंख किसी न किसी रूप में प्रिय हैं। पौराणिक काल में महर्षियों द्वारा इसी मोरपंख की कलम बनाकर बड़े-बड़े ग्रंथ लिखे गए हैं।


घर के दक्षिण पूर्व पर मोर पंख लगाने से अचानक आने वाले कष्ट टल जाते है।



- मोर पंख काल सर्प दोष को भी दूर करता है। काल सर्प दोष से प्रभावित व्यक्ति सोमवार की रात को अपने तकिए में सात मोर पंख रखें और रोज इसी तकिए का प्रयोग करें।


- अगर आपके घर में आपका बच्चा जिद्दी है, तो उसके कमरे के छत्त के पंखे में मोर पंख लगा दें। जिससे पंखा चलने पर मोर पंख की हवा धीरे धीरे बच्चे को लगेगी तो उसका जिद्दीपन कम होगा।


- ऐसा कहा जाता है कि मोर और सांप में दुश्मनी है। सांप शनि व राहु के संयोग से बनता है। ऐसे में मोर पंख को घर के पूर्वी और उत्तर पश्चिम की दीवार पर लगाने से राहु दोष परेशान नहीं करता।


- नवजात बच्चे के सिर की तरफ दिन रात एक मोर का पंख चांदी के ताबीज में डाल कर रखने से बालक डरता नहीं है और हर नजर दोष से बचा रहता है।


- आप दुश्मनों से अधिक परेशान हैं तो मोर पंख पर हनुमान जी के मस्तक के सिंदूर से मंगलवार या शनिवार की रात को शत्रु का नाम लिखकर घर के मंदिर में रख दें और सुबह बिना नहाए चलते पानी में बहा दें।