इंदौर-हीरानगर पुलिस ने अन्तर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश किया।

Apna Lakshya News


 


इंदौर-  पुलिस ने गिरोह के 04 सदस्यों को गिरफ्तार किया है।


-पुलिस ने सदस्यों से लाखों कीमत के चार पहिया वाहन बरामद किए है।


-पुलिस ने इंदौर शहर मे घटित दो दर्जन कार चोरी की घटनाओं का किया खुलासा।


-चोरो से लाखों रुपयों की चोरी की 12 कारें बरामद की गई गई।



इन्दौर दिनांक 11 सितबंर 2019- शहर इन्दौर मे म.प्र.शासन द्वारा इसी माह आयोजित होने वाले मेग्नीफिसेन्ट एम.पी.समिट को दृष्टिगत रखते हुए, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इंदौर शहर श्रीमती रुचि वर्धन मिश्र द्वारा असामाजिक तत्वो की धरपकड एवं संदिग्धो के विरूद्ध प्रभावी चेकिंग करने के निर्देश शहर इन्दौर के सभी थानो को दिये गये है। इसी क्रम में थाना हीरानगर पुलिस को वाहन चेकिंग के दौरान एक बडें अन्तरराज्यीय कार चोर गिरोह को पकडने मे सफलता हासिल हुई है।  
 पुलिस थाना हीरानगर क्षेत्रांतर्गत कल दिनांक 10/010/19 को पुलिस थाना हीरानगर पुलिस टीम द्वारा चन्द्रगुप्त मौर्य चौराहा पर वाहन चेकिंग की जा रही थी, इसी दौरान बापट चौराहा तरफ से एक बिना नम्बर की मारूती इको कार आती दिखी जो कि पुलिस चेकिंग के पास आने पर अचानक उसमें बैठे चालक द्वारा कार वापस पलटा कर भागने का प्रयास किया। संदेह होने पर चेकिंग मे लगे पुलिस दल द्वारा उसे तत्काल घेराबंदी कर पकडा गया। कार में सवार चालक एवं उसके साथ बैठे एक व्यक्ति से गहन पूछताछ करने पर यह पता चला कि उक्त वाहन चोरी का है जिसे कि कार मे सवार कार चालक नईम उर्फ नवाबपिता सलीम खान उम्र 34 साल नि ग्राम अंबावा तहसील ठासरा जिला खेडा गुजरात हाल 69 सिंकदराबाद कालोनी खजराना द्वारा करीब एक वर्ष पहले इन्दौर के सदर बाजार थाना क्षेत्र के रामबाग से अपने साथी तोसिफ खान निवासी खजराना एवं सद्दाम पिता अनवर खान निवासी लंगापुरा आष्टा जिला सीहोर के साथ मिलकर चुराना तथा कार में उसके साथ बैठे मुजस्सिम पिता मोहम्मद समोल 29 साल नि चेतनदास फ्लोर बेजलपुर रोड गोधरा गुजरात को बेचना तथा मुजस्सिम को कार सहित इन्दौर शहर से बाहर तक छोडने जाना बताया।



 उक्त दोनो व्यक्तियों को पुलिस अभिरक्षा मे लेकर गहन पूछताछ करने पर आरोपी नईम उर्फ नवाब खान ने अपने दोनो साथी सद्दाम एवं तोसिफ के साथ मिलकर वर्ष 2018 एवं 2019 में शहर इन्दौर से लगभग 2 दर्जन कारें चोरी करना स्वीकार किया जिनमे मारूति ईको एवं स्विफ्ट तथा सेन्ट्रो कारें शामिल है। आरोपीगण द्वारा इन्दौर से चुराकर गुजरात के गोधरा में रहने वाले मुजस्सिम को 16 गाडियां बेचना बताया तथा इन्दौर में 3 गाडियां आरोपी नवाब के घर पर जिनमें फोर्ड आईकॉन सिलवर रंग की तथा एक मारूती स्विफ्ट एवं एक टाटा नेनो हरे रंग की रखी होना बताया। एवं दो गाडियां अपनेमित्र एवं खजराना में कार गैरेज चलाने वाले इरफान पिता अजीज खान नि बडवाली चौकी इन्दौर की गैरेज में रख देना बताया जिनमें 01 मारूती 800 सफेद रंग की तथा एक टाटा इन्डिका सिलवर रंग की है । आरोपी नईम द्वारा 2 वाहन जिसमें 01 मारूती सुजकी 800 स्लेटी रंग की एवं एक मारूती सुजकी 800 लाल रंग की  अपने मित्र इमरान पिता युनुस शाह निवासी हारून  कालोनी पानी की टंकी के नीचे खजराना इन्दौर के पास रखी होना बताया। 
       आरोपी  मुजस्सिम द्वारा पूछताछ पर लगभग 16 वाहन जिसमें 15 वाहन मारूती सुजुकी ईको कारें एवं एक ह्युनडई कंपनी की 01 सेन्ट्रो कार नवाब खान से खरीदना स्वीकार किया है। उक्त मुजस्सिम द्वारा आरोपी नवाब से खरीदी हुई उक्त गाडियो में से 12 मारूती सुजुकी ईको कारों को मोडासा गुजरात में आटो गैरेज का काम करने वाले इम्तियाज डाहिया निवासी ग्राम मोडासा लूनावाला रोड गुजरात को  बेच देना बताया है तथा  04 वाहन जिसमें 01 सेन्ट्रो व  02 मारूती सुजुकी इको व 01 मारूती ओमनी वेन सिलवर रंग अपने घर गोधरा में बेचने के लिये रखे होना बताया। आरोपियों  1 नईम उर्फ नवाब पिता सलीम खान उम्र 34 साल नि ग्राम अंबावा तहसील ठासरा जिला खेडा गुजरातहाल 69 सिंकदराबाद कालोनी  खजराना 2 मुजस्सिम पिता मोहम्मद समोल 29 साल नि चेतनदास फ्लोर बेजलपुर रोड गोधरा गुजरात 3- इमरान पिता युनुस शाह नि हाऱून कालोनी खजराना 4- इरफान पिता अजीज खान नि बडवाली चौकी इंदौर को गिरफ्तार किया जाकर उनके कब्जे से चोरी के वाहनों की जप्ती की कार्यवाही की जा रही है जिनसे अभी तक कुल 12 चोरी की कारें बरामद करने में सफलता प्राप्त हुई है तथा शेष 12 कारें और शीघ्र ही बरामद होने की संभावना है। आरोपी सद्दाम एवं तोसिफ अभी फरार है तथा  गुजरात के इम्तियाज की गिरफ्तारी एवं उसके कब्जे से अन्य वाहनो की बरामदगी की कार्यवाही हेतु एक पुलिस दल शीघ्र ही गुजरात भेजा जायेगा। प्रकरण में आरोपियों के विरूद्ध थाना हीरानगर पर अपराध क्र 696/19 धारा 411,413,414,379,34 भादवि का पंजीबद्ध किया गया है। 
      प्रकरण में संलिप्त आरोपी नईम उर्फ नबाव पूर्व में भी ट्रक चोरी के अपराधों में गुजरात में बंद हो चुका है जिसके पूर्व आपराधिकरिकार्ड का पता लगाया जा रहा है। फरार आरोपी तौसिफ एवं सद्दाम के विरूद्ध भी पूर्व  मे कई थानों में आपराधिक रिकार्ड है। गिरफ्तार आरोपियों से गहन  पूछताछ अभी जारी है जिससेइन्दौर सहित आसपास के अन्य शहरों की वाहन चोरियों आदि की और भी वारदातों का खुलासा होने की पूर्ण संभावना है ।  


उक्त सम्पूर्ण कार्यवाही के संबध में पुलिस अधीक्षक इन्दौर (पूर्व) श्री मो. युसूफ कुरैशी द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश संबधित पर्यवेक्षण अधिकारियो एवं थाना प्रभारी हीरानगर को दिये गये। जिस परिपेक्ष्य में अति. पुलिस अधीक्षक जोन-3 इन्दौर (पूर्व), श्री प्रशान्त चौबै द्वारा  नगर पुलिस अधीक्षक परदेशीपुरा श्री निहित उपाध्याय के साथ मिलकर एक विस्तृत कार्यवाही योजना तैयार की गई जिसके परिणामस्वरूप उक्त उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।
  
          उक्त सराहनीय कार्यवाही में थाना हीरानगर के उनि जगदीश मालवीय , सहायक उप निरीक्षक एच एच कुरैशी, प्रआर 1182 पंकज सिंह, आर. 2036 महेंद्र सिंह, आर 1948 अजीत यादव आर 719 सुनिल बाजपेयी, आर 280 सौरभ सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। उक्त टीम को एसएसपी इंदौर द्वारा नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।