पटवारी से पीड़ित सत्याग्रह मैं 3 दिन से बैठी भिखमतिया से मिलने पहुंची शहडोल सांसद हिमाद्रि सिंह न्याय दिलाने का दिया आश्वाशन।

Apna Lakshya News


मध्यप्रदेश में पटवारियों से बड़े नेताओ और मंत्री जी की स्वाभिमानी जंग छिड़ी हुई है , पटवारी अपने ऊपर भृस्टाचार के आरोप से आक्रोशित है तो वही मंत्री जी मानने को तैयार नही की उन्होंने कुछ गलत बोला ,यैसे मैं अनूपपुर जिले में एक पटवारी की करतूत ने पटवारियों पर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर दिया है  पटवारी से प्रताड़ित गरीब  आदिवाशी महिला भिखमतिया ने  अनशन मैं बैठ सत्याग्रह का रास्ता चुन लिया है गौरतलब है कि 2  अक्टूबर को गांधी के रास्ते में चल भिखमतिया बाई ने न्याय पाने सत्याग्रह का रास्ता चुना था आज सत्याग्रह का तीसरा दिन है और प्रशाशन के बड़े अधिकारी अनशन स्थल के सामने से निकल रहे पर गरीब आदिवाशी के न्याय की गुहार उनके कानों तक नही गूंजी ,शहडोल सांसद श्रीमती हिमाद्रि सिंह अनूपपुर आयी और उन्होंने सत्याग्रह कर रही भिखमतिया से मुलाकात की और उसे हर संभव मदद करने का अस्वाशन दिया है , भिखमतिया ने सांसद महोदय से गले लग रोते हुए कहा कि उसे न्याय दिलवाइये नही तो वह जान दे देगी , भिखमतिया का आरोप है कि  पटवारी द्वारा उसे छल पूर्वक भूमिविहीन कर दिया गया जबकि वह करोङो के जमीन की मालकिन है।