विधायक कुंदेलाल सिंह ने किया मौनव्रत आंदोलनमंत्रालय पहुंचा कोदो, कुटकी का मामला

अपना लक्ष्य


कल 2 अक्टूबर 2019 को जब पूरा देश राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का 150वीं जयंती मना रहा था उस समय जिले के कोतमा क्षेत्र में राजनैतिक दलों की गुटबाजी, अनूपपुर में भिखमतिया बाई का सत्याग्रह आंदोलन, पुष्पराजगढ़ क्षेत्र में विधायक कुंदेलाल सिंह का मौन व्रत आंदोलन चल रहा था। लोगों की मानें तो जिला प्रशासन कल 2 अक्टूबर को कुछ अधिक ही व्यस्त नजर आया, कारण कि कहीं गांधी जयंती कार्यक्रम में शामिल होना था तो कहीं सत्याग्रह में बैठी भिखमतिया बाई के मामले को संज्ञान में लेकर मामले की जांच कराना एवं प्रदेश में जिसकी सरकार हो उस विधायक के मौन व्रत आंदोलन में बैठ जाने से जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन में खलबली मच गई। 


कारण कि भिखमतिया बाई एक स्थानीय पटवारी से परेशान होकर कलेक्टर से न्याय की कई मरतबे गुहार लगाई उसे न्याय नहीं मिला, जिसके चलते उसे सत्याग्रह आंदोलन करना पड़ा वहीं पुष्पराजगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक कुंदेलाल सिंह के विधानसभा क्षेत्र पुष्पराजगढ़ में उपसंचालक कृषि विभाग एवं आत्मा परियोजना द्वारा २०१७, १८, १९ में करोडों रूपये का घोटाला, कोदो, कुटकी उत्पादन, जैविक खेती व मिलिंग, पैकिंग, मार्केटिंग लांच करने के नाम पर करोडों रूपये का घोटाला किया गया है, जिसके विरोध में विधायक श्री मार्कों ने कल इंदिरा गांधी राष्ट्रीय अनुसूचित जनजातीय विश्व विद्यालय अमरकंटक के मुख्य द्वार पर मौन व्रत आंदोलन के लिए बैठ गये।


यह है मामला


सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश शासन द्वारा विगत २०१६-१७ में प्रदेश के २१ जिलों के ८९ विकासखण्डों में लगभग ११ करोड़ रूपये कोदो, कुटकी उत्पादन, पैकिंग, मार्केटिंग एवं जैविक खेती के नाम पर दिया गया था। बताया गया है कि अनूपपुर जिले के विकासखण्ड पुष्पराजगढ़ के लिए शासन द्वारा राशि आवंटित की गई थी, जिसका जमकर घोटाला डीडीए कृषि विभाग एवं आत्मा परियोजना द्वारा किया गया है। इतना ही नहीं शासन एवं प्रशासन को इनके द्वारा गुमराह कर गलत जानकारी दी गई है।


अमरकंटक कोदो ब्रांड का होना था लांचिंग


२ अक्टूबर गांधी जयंती के दिन इंदिरा गांधी राष्ट्रीय अनुसूचित जनजातीय विश्वविद्यालय अमरकंटक के कुलपति टी वी कट्टीमनी के मार्ग दर्शन में अमरकंटक कोदो ब्रांड के नाम से यह मिशन लांच हुआ है। जिसमें पुष्पराजगढ़ विधायक कुंदेलाल सिंह मार्को ने उपसंचालक कृषि विभाग पर आरोप लगाया है कि पुष्पराजगढ़ क्षेत्र में कहीं कोदो-कुटकी की खेती नहीं कराई गई है। ना ही किसी हितग्राही को लाभ दिया गया है, झूठी जानकारी एकत्र कराकर अमरकंटक कोदो ब्रांड का नाम देकर लांच किया जा रहा है जो सरासर गलत एवं भ्रष्टाचार साबित हो रहा है।


विधायक ने किया मौन व्रत आंदोलन


राज्य शासन द्वारा पुष्पराजगढ विकासखण्ड में कोदो कुटकी के नाम पर करोडों रूपये आवंटित किए गए थे, जिसमें उपसंचालक आत्मा परियोजना द्वारा भारी भ्रष्टाचार किया गया है, जिसके विरोध में विधायक कुंदेलाल सिंह ने कल अमरकंटक कोदो ब्रांड लांचिंग के दौरान विश्वविद्यालय अमरकंटक के मुख्य द्वार पर मौन व्रत आंदोलन में बैठ गये। इनके साथ विधानसभा क्षेत्र पुष्पराजगढ़ के सैकड़ों कार्यकर्ता साथ रहे।


आंदोलन स्थल पहुंचे कलेक्टर, एसपी


विधायक के मौन व्रत आंदोलन की खबर मिलते ही कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर, पुलिस अधीक्षक श्रीमती किरणलता केरकेट्टा पहुंचकर कोदो-कुटकी के नाम पर हुए करोडों रूपये के भ्रष्टाचार को गंभीरता से लेते हुए दोषी अधिकारी, कर्मचारियों के खिलाफ जांच कराकर कानूनी कार्यवाही का आश्वासन देते हुए नाराज विधायक को कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने आश्वासन के बूते मौन व्रत तोड़वाया।


जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा बर्दाश्त नहीं


कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने आंदोलन के दौरान पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि इंदिरा गांधी राष्ट्रीय अनुसूचित जनजातीय विश्वविद्यालय एवं जिला व अन्य स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा जो भी शासकीय आयोजन किए जा रहे हैं, उसमें क्षेत्रीय सांसद, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, नपा अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं समस्त क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों को प्रमुखता से स्थान देकर उन्हें यथा उचित स्थान दिया जाये। श्री ठाकुर ने कहा कि आज अमरकंटक कोदो ब्रांड लांच होने जा रहा है।


कलपति एवं डीडीए से कमिश्रर नाराज


उक्त कार्यक्रम में संभागायुक्त आर बी प्रजापति मुख्य अतिथि बनाये गये थे, लेकिन उन्होंने जब आमंत्रण पत्र देखा कि क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा हुई है और कृषि विभाग के उपसंचालक पर भ्रष्टाचार और आर्थिक अनियमितता के आरोप लग रहे हैं, ऐसी अव्यवस्थाओं को लेकर कमिश्रर श्री प्रजापति ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यक्रम से दूरी बना लिए।