अंतराज्यीय महिला डकैत  सरगना साधना पटेल को असलहे के साथ सतना पुलिस ने किया गिरफ्तार

 


01 माह में सतना पुलिस द्वारा साधना पटेल सहित कुल 06 ईनामी बदमाशो को किया गिरफ्तार।


इनकी मेहनत लाई रंग
प्रभारी मझगवां,थाना प्रभारी सिंहपुर, थाना प्रभारी कोटर एवं महिला थाना प्रभारी के नेतृत्च् में सतना पुलिस को मिली बड़ी सफलता।

सतना🖊मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्र में डकैत सफाये में सतना पुलिस द्वारा दस्यू विरोधी अभियान की कड़ी में दस्यू सुंदरी साधना पटेल गिरोह के ऊपर नजर रखी जा रही थी गोपनीय जानकारी प्राप्त हुई की साधना पटेल दिल्ली एनसीआर, या मउरानीपुर झांसी में भी इसके होने की संभावना है उक्त ठीकानों की जानकारी प्राप्त की गई,  सूचना के आधार पर स्थानीय मुखबिर को सक्रिय किया गया और पुलिस द्वारा दविश की गई।  ईनामी डकैत साधना पटेल अपने गैंग के साथ कडियन मोड के जंगल में पुलिया के पास देखी गई है, जो कोई बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थी।मुखविर की सूचना पर पुलिस टीमे तैयार कर उक्त स्थान की चारों तरफ से घेराबंदी कर दबीस देकर  डकैत साधना पटेल को गिरफ्तार किया ,  महिला पुलिस अधीकारी द्वारा डकैत साधना पटेल की तलासी के दौरान  हथियार व दैनिक उपयोग की सामग्री मिली। जिस पर से थाना मझगवां में अपराध क्रमांक 128/19 धारा 25/27  आर्म्स एक्ट 11/13 ए डी एक्ट मे दर्ज।



आपराधिक फेहरिस्त
 साधना पटेल उर्फ बेलनी पिता स्व. बुद्धविलास पटेल उम्र 21 वर्ष मुख्यत रामपुर पालदेव के बगहिया भरवा पुरवा चौकी भरतकूप थाना कोतवाली कर्बी जनपद चित्रकूट उत्तर प्रदेश की रहने वाली है, डकैतों से संबंध इसको विरासत में मिला कुख्यात डकैत चुन्नी लाल पटेल से इसके बुआ का घनिष्ट संबंध थें। वर्ष 2015—16 में साधना अपने मुह बोले रिस्तेदार के साथ अपना घरबार छोड़ के चली गई एवं बाद में अनबन होने पर वापस आई व तत्तसमय फरार डकैत नवल धोबी के समपर्क कर नवल गिरोह की सक्रिय सदस्य बनी, साधना पटेल प्रारंभ से ही महत्वाकांक्षी किस्म की थी तथा पूरे गिरोंह में अपना अधिपत्य करना व क्षेत्र में अपना आतंक स्थापित करना चाहती थी। इसी बीच नवल धोबी व उसके गैंग के कई सदस्यों को पुलिस गिरफ्त में आजाने के बाद यह स्वंय अपना गैंग बना कर, जिसमें दीपक शिवहरे,रवि उर्फ रिंकू शिवहरे, छोटू उर्फ ज्ञानेन्द्र पटेल के साथ मिलकर तराई क्षेत्र में सक्रिय बनी रही तथा सड़क ठेकेदारो, बीड़ी पत्ती ठेकेदारों आदि से रंगदारी राशि वसूल कर सक्रिय रही । इसी बीच संकर रैदास निवासी खूटहा जिला बांदा का भी साधना पटेल गिरोह के साथ जुड़ गया। वर्ष 2018 में अपने गिरोह के सदस्यों के साथ राहगीरों व आमजन के साथ मारपीट व लूट की कई घटनाये की गई जो कि भरतकूप चौकी व फतेहपुर थाना क्षेत्र से संबंधित थाी । वर्ष 2018 में ही उक्त गिरोह द्वारा पथरा पाल देव से छोटेलाल सेन का उक्त गैंग द्वारा अपहरण कर फिरोती की मागं की गई जिसमें से थाना नयागांव में अपराध पंजीबद्ध किया गया था जिस पर से पुलिस अधीक्षक सतना द्वारा 10000 रुपये का ईनाम घोषित किया गया था। वावजूद इसके साधना पटेल व गिरोह के सदस्य क्षेत्र में मारपीट व वसूली की घटनाओं को अंजाम देते रहे तथा साधना पटेल द्वारा बबली कोल गिरोह से संपर्क कर गिरोह को लगातार क्षेत्र में अपना विस्तार करना के प्रयास किये जा रहे थे किन्तु सतना पुलिस की बढ़ती सक्रियता देख के साधना पटेल व गिरोह के सदस्य रवि, दीपक आदि विभिन्न जगहों में छूपाव हासिल किये किन्तु पुलिस ने गिरोह के पीछे लगे रहे और रवि शिवहरे व दीपक शिवहरे को गिरफ्तार किया गया। सूचना मिली की साधना पटेल खुद का बचाव करने हेतु दिल्ली, हरियाणा बार्डर मे रहने लगी।  



जप्त सामग्री
01 नग 315 बोर की देशी रायफल
01 बिनडोरिया जिसमें 04 जिन्दा कारतूस व 21 खाली खोखे लगे 
01 नग झोला जिसमें दैनिक उपयोग की सामग्री 


आपराधिक रिकार्ड
मध्यप्रदेश
01. थाना नयागांव के अपराध क्रमांक 143/18 धारा 364 ए, 342,324,149,120 बी भादवि. 25/27 आम्रस एक्ट एवं 11, 13 एडी एक्ट
02. थाना नयागांव के अपराध क्रमांक 162/17 धारा 364 ए,34 भादवि 25/27 आमर्स् एक्ट एवं 11,13 एडी एक्ट 
03.  थाना नयागांव के अपराध क्रमांक 30/17 धारा 342,346 ए, 147,148,148 भादवि एवं 11,13 एडी एक्ट 
04. थाना मझगवां में अपराध क्रमांक 128/19 धारा 25/27  आर्म्स एक्ट 11/13 ए डी एक्ट 
इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश में छोटे—बड़े मिला कर लगभग 03 की संख्या में अपराध पंजीबद्ध होने की सूचना है जिनकी जानकारी प्राप्त की जा रही है। 


ईनाम उद्घोषणा उक्त दस्यू साधना पटेल के उपर मिलाकर मध्यप्रदेश व उत्तर प्रदेश में 20 हजार रुपये का ईनाम घोषित है तथा मध्य प्रदेश में उक्त अपराधो मे प्रत्येक में पृथ्क—पृथ्क 10000—10000 का ईनाम घोषित है, इसके अतिरिक्त 30 हजार रुपये के ईनाम बढ़ाने हेतु पूर्व में ही एक प्रतिवेदन पुलिस महानिरीक्षक रीवा जोन की ओर प्रेषित है। 


सराहनीय योगदान
थाना प्रभारी मझगवां ओम प्रकाश चोगड़े, प्रभारी कोटर उप निरीक्षक गोपाल चौबे, थाना प्रभारी सिंहपुर उपनिरीक्षक सुधांशु तिवारी, महिला थाना प्रभारी उपनिरीक्षक राजश्री रोहित, उनि सायबर सेल अजीत सिंह एवं सउनि चक्रधर प्रजापति कप्तान सिंह व प्रधान आरक्षक आर के पटेल,  दीपेश, राजेश सिंह, लाखन पंडा व आरक्षक रमाकांत तिवारी, अरविंद सिंह, जगदीश मीणा, अभिषेक पांडे, वीपेन्द्र मिश्रा, राहुल सिंह, अमित यादव, राकेश कश्यप, असलेन्द्र सिंह और म• आर अंकिता सिंह का योगदान सराहनीय रहा।


Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर