अतिक्रमण की आड़ में निजी स्वार्थ बस हत्त्या की गई जीवित पेड़ो की

 


*मैहर नगरपालिका कर्मचारी दिनेश शुक्ला बना अबैध कार्यो का सरगना।।


*एक ही स्थान पर नौकरी कर बिता दिया लगभग 55 की उम्र स्थांतरण होने पर राजनैतिक दबाव के बल बुते रुकवालेता है स्थांतरण


पत्रकार रामनरेश शर्मा
सतना


मैहर आरकंडी जंहा सशकीय भूमि पर आम जनमानस द्वारा बृक्षारोपण किया गया था वही नगरपालिका के दिनेश शुक्ला द्वारा फलते फूलते बृक्षों को निर्दयतापूर्वक कटवा दिया गया जबकि नगर पालिका सी एम ओ द्वारा अबैध कब्जा की गई भूमि पर अतिक्रम कार्य के लिए आदेशित किया गया था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दिनेश शुक्ला उम्र लगभग 55 वर्ष निवाशी मैहर तहसील के जरियारी का रहने वाला है तथा जब से नगरपालिका में नौकरी किया तव से अब  तक कही ट्रांसफर नही हुआ जबकि पम्प चालक के पद पर होते हुए भी राजस्व का कार्य करता है। यह भी पुख्ता जानकारी मिली कि दिनेश शुक्ला स्वयं अबैध रूप से सशकीय भूमि पर आलीशान मकान बनवाकर किराया पर दिया है। जो कि मैहर के अंधरा टोला पर निर्माणधिन है। पीड़ितों की साशन प्रसाशन से गुहार है जिस प्रकार हम गरीबो को बेघर किया गया है व हरे भरे बृक्षों को उखाड़ फेंका गया है उसी प्रकार दिनेश शुक्ला के खिलाफ कार्यवाही कर अबैध बने आशियाने को भी गिराया जाए तथा इसकी सम्पत्ति की भी जाँच की जाए। तथा अनैतिक तरीके से पदस्थ राजस्व विभाग  से हटाकर वास्तविक तौर पर पंप चालक का ही कार्य करवाया जाय। इस प्रकार से गरीब लोगों ने एस डी एम एवं जिला प्रशासन से गुहार लगायी गयी है।



Popular posts from this blog

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,

शिवराज सरकार के लिए खुशखबरी, इंदौर, भोपाल में रिकवरी दर बढ़ी

पुलिस द्वारा करीब एक करोड़ रुपए कीमती अवैध सुपारी भरा ट्रक पकड़ा