भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ने एक बार पुन नाथूराम गोडसे के कसीदे, बताया देशभक्त शभक्त

भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर का विवादों से नाता पुराना है। उन्होंने महात्मा गांधी की 150 जयंती पर भाजपा द्वारा आयोजित पदयात्रा से गायब रहने पर उठे सवाल पर चुप्पी तोड़ी और एक बार फिर गोडसे की शान में कसीदे पढ़े और उन्हें देशभक्त बताया है। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि वह गांधी के दिखाए रास्तों की प्रचार करने के बजाय उसका पालन करने में यकीन रखती हैं। उन्होंने आगे यह भी कहा कि कांग्रेस को कभी किसी से सहानुभूति नहीं है, चाहे वह गांधी हो या गोडसे। प्रज्ञा ने कहा, कांग्रेस सिर्फ राजनीतिक फायदों के लिए गांधी के नाम को कैश करती है लेकिन उनके आदशों का कभी पालन नहीं किया लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके आदर्शों को मानते हैं। जिस दिन मोदी जी ने गांधी के विचारों का प्रसार करने का जिम्मा लिया, उसी दिन से पूरे देश में बदलाव दिखने लगा। प्रज्ञा एक बार फिर गोडसे की तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाई। उन्होंने कहा, कांग्रेस को कभी किसी से कोई सहानुभूति नहीं रही है, चाहे वह गांधी हों या गोडसे। वे (कांग्रेस) गांधी के आदर्शों तक या गोडसे की देशभक्ति और विचारधारा तक कभी नहीं पहुंच सकती है। वे सिर्फ राजनीतिक फायदों के लिए लोगों की भावनाओं से खेलते हैं। बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान गोडसे को देशभक्त बताने पर प्रज्ञा ठाकुर पीएम मोदी की नाराजगी भी झेल चुकी हैं। बीजेपी द्वारा 150वीं गांधी जयंती पर निकाली संकल्प यात्रा में प्रज्ञा की गैरमौजूदगी पर सवाल उठे थे। कांग्रेस ने इसके जरिए भाजपा और प्रज्ञा पर हमला बोला था


Popular posts from this blog

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

जनता के हितार्थ कार्य ही मेरी पहली प्राथमिकता : सुनील सराफ