भारी बर्फबारी से कश्मीर में सेना के दो जवान सहित 6 की जान गई

श्रीनगर - जम्मू-कश्मीर में समय से पहले शुरू हुई बर्फबारी ने कहर ढ़ाना शुरु कर दिया है। बीते तीन दिनों से हो रही भारी बर्फबारी के चलते अब तक कुल 6 लोगों की जान चली गई है। जिनमें दो सेना के जवान भी शामिल हैं। घाटी में चारों तरफ बर्फ की बिजली सफेद चादर बिछी हुई है। कहीं एक फिट तो कहीं चार फीट तक बर्फ जमी है। बर्फबारी के चलते कश्मीर पहुंचे सैलानी तो खुश हैं लेकिन कश्मीरियों की परेशानी बढ़ गई है। एक बिजली तरफ कश्मीर को देश से जोड़ने वाले सभी राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात के लिए बंद कर दिए गए हैं। वहीं दूसरी तरफ कई इलाकों में तीन दिन से बिजली गुल है। मिली जानकारी के निर्देशक मुताबिक, बुधवार को नॉर्थ कश्मीर के लगेट एरिया में सेना की गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिसमें एक रायफलमैन और एक जवानों की मौत हो गई। सेना के मुताबिक, एक्सिडेंट लो विजिबिलिटी के चलते हुआ। गुरुवार को भारी बर्फबारी के चलते कुपवाड़ा में एलओसी एरिया में हिमस्खल की चपेट में आने से सेना के दो पोटरों की मौत हो गई। दोनों पोटर स्थानीय बताए जा रहे हैं। उधर, राजधानी श्रीनगर के बहक इलाके में बिजली का तार ठीक कर रहे बिजली विभाग के एक कर्मचारी मंजूर अहमद की करंट लगने से मौत हो गई। आपको बता दें कि बर्फबारी के चलते घाटी में जगह-जगह बिजली ठप है। उधर, पुलवामा में अपने घर की छत से बर्फ हटा रहा एक शख्स पैर फिसलने से नीचे आ गिरा। इस दुर्घटना में उसकी मौत हो गई। मौसम विभाग के डिप्टी निर्देशक मुख्तार अहमद ने कहा कि, एक एडवाइजरी जारी कर हमने प्रशासन को अवगत किया है कि 6 नवंबर से 8 नवंबर तक जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में भारी हिमपात और बारिश की संभावना है।


Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर