बुजुर्ग महिला से क्रूरता मामले में 21 गिरफ्तार

 


81 साल की महिला को डायन बताकर की थी क्रूरता


डायन बताकर 81 साल की बुजुर्ग महिला के साथ क्रूरता पूर्ण व्यवहार करने के मामले में 21 लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में 17 आरोपियों को कोर्ट ने तीन दिनों के पुलिस रिमांड पर भेज दिया हैवहीं, 4 अन्य आरोपियों को अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा, इस पूरे मामले में पुलिस ने उन सभी 21 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जिनके बारे में पीड़ित महिला और उसके परिवार ने पुलिस को शिकायत दी थी। गिरफ्तार 21 आरोपियों में 14 पुरुष और 7 महिलाएं शामिल हैं। इनमें एक 18 वर्षीय युवक और देवता की तथाकथित 22 वर्षीय पुजारिन भी शामिल है। जिन 17 लोगों को पुलिस ने बीती रात गिरफ्तार किया था, उन्हें भी सरकाघाट से दूर धर्मपुर पुलिस थाना की कस्टडी में रखा गया था और इस बात की पुलिस ने किसी को कानों कान खबर नहीं लगने दीरविवार को दिन भर चले ड्रामे के बीच सरकाघाट पुलिस ने पुरी मुस्तैदी दिखाते हुए चार आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि बड़ा समाहल गांव के सैंकड़ों लोग देवता के रथ के साथ सरकाघाट थाने का घेराव करने आ रहे हैं। डीएसपी सरकाघाट चंद्रपाल सिंह और उनकी टीम ने पहले ही मुस्तैदी दिखाते हुए इससे निपटने के बंदोबस्त कर दिए। पुलिस की इस मुस्तैदी से किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना नहीं हुई। देवरथ के साथ आए लोग सरकाघाट से पांच किमी पीछे ही रुक गए और यहां सादी वर्दी में मौजूद पुलिस कर्मियों ने उन्हें समझा बुझा कर उन चार लोगों को थाने पहुंचा दिया, जिनकी गिरफ्तारी होनी थी। बताया जा रहा है कि यह लोग देवरथ को इसलिए लेकर आए थे, ताकि पुजारिन की गिरफ्तारी को रोका जा सके। इन्होंने पुलिस को दलील भी दी कि अगर पुजारिन को गिरफ्तार किया गया तो फिर देवता की देखभाल कौन करेगा। पुलिस ने दो टूक शब्दों में कहा कि यह उनकी चिंता नहीं है, जिसने गुनाह किया है उसे कार्रवाई में शामिल होना ही होगा। देर शाम तक यह लोग देवरथ के साथ उसी स्थान पर डटे रहे। एसपी मंडी गुरदेव शर्मा ने बताया कि इस पूरे मामले में 21 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है