देवी जी मंदिर प्रांगण में एक बार फिर| गरीबों ने प्रशासनिक अमले की तानाशाही को लेकर| प्रमोद सिंह की अगुवाई में कर रहे धरना प्रदर्श


              वही मिली जानकारी के मुताबिक विगत 20 वर्ष से ज्यादा के समय से गरीबों के द्वारा| अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए फुटपाथ में छोटी-छोटी दुकान लगाकर जीवन यापन किया जा रहा है| लेकिन प्रशासनिक जिम्मेदार तंत्र के द्वारा उठाया गया कदम से नाराज गरीबों ने| आज पार्षद प्रमोद सिंह की अगुवाई में एक बार फिर कर रहे हैं धरना प्रदर्शन| जबकि अगर देखा जाए तो मैंहर शहर में जगह जगह पर बड़े-बड़े अतिक्रमण रसूखदारो के द्वारा किया गया है| लेकिन प्रशासनिक तंत्र है कार्यवाही करने की बात तो दूर उनके नजदीक तक जाकर जू तक कर रहे हैं| लेकिन कहते हैं कि जब कोई गरीब है और उसका सिर्फ जीवन का सिद्धांत विचार मजदूरी करके जीवन यापन करने का हो तो| उसे विभिन्न तरह के प्रताड़ना से परेशान भी हो ना पड़ता है| वही देखने लायक होगा कि पार्षद प्रमोद सिंह की अगुवाई में हो रहे| धरना प्रदर्शन का परिणाम स्वरूप क्या होता है?