झूठा और बिकाऊ निकला निर्भया हत्याकांड का चश्मदीद गवाह, केस दर्ज

नई दिल्ली। देश में साल-2012 में हुए लोमहर्षक निर्भया हत्याकांड में एक बार फिर नए खुलासे से तूफान खड़ा हो सकता है। इसकी वजह होगी दिल्ली पुलिस को दी गई एक खास शिकायत। दक्षिण पश्चिम दिल्ली जिले के डीसीपी और आरकेपुरम थाने में यह शिकायत, निर्भया हत्याकांड में फांसी की सजा पाए चार में से एक मुजरिम के पिता की ओर से दी गई है। इस दलील के साथ कि निर्भया कांड में जिसे (कल तक निर्भया का दोस्त) बतौर इकलौता गवाह अदालतों में पेश किया गया, दरअसल वह कथित तौर पर झूठा और बिकाऊ है। आरोप के मुताबिक, तमाम अखबारों और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में इस कथित चश्मदीद (गवाह) ने अब तक जो भी बयान दिए, वे सब मनगढंत और पैसे के बलबूते लिए-दिए गए हैं! संबंधित सनसनीखेज आरोपों से भरी यह शिकायत दिल्ली के आरकेपुरम थाने में दो नवंबर, 2019 को दी गई है। शिकायतकर्ता के नाम पते की जगह पर हीरालाल गुप्ता पुत्र नौरंगी लाल गुप्ता, हाल-पता जे-64 रविदास कैंप, सेक्टर-3 आरकेपुरम लिखा है। दरअसल, हीरालाल गुप्ता का ही बेटा पवन कुमार गुप्ता दिल्ली की मंडोली स्थित जेल नंबर-14 में बंद है। पवन कुमार गुप्ता, निर्भया हत्याकांड में फांसी की सजा पाए चार दोषियों (मुकेश, अक्षय कुमार सिंह, विनय कुमार शर्मा) में से एक है।


Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

3 जिले पूरी तरह सील, 11 जिलों में टोटल लॉकडाउन, बाहर निकले तो होगी FIR

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,