जिला सीओ के आदेश की धज्जियां उड़ा रहे मझगवा जनपद सीईओ अशोक मिश्रा

 



 ऐसी संभावना पाई जा रही है कि सचिव के संविलियन के लिए जिला पंचायत सीओ द्वारा छानबीन समिति की बैठक का आयोजन दिनांक 25. 11. 2019 को किया गया था विधिवत समस्त जनपदों को पत्र द्वारा सूचित किया गया था कि उक्त दिनांक को समस्त ब्लॉकों से जिन जिन सचिवों का संविलियन नहीं हुआ है उनकी फाइल तैयार कर जिला पंचायत सीईओ के यहां निर्धारित  समय में प्रस्तुत करें लेकिन समस्त ब्लॉकों से फाइल जिला में पहुंचने के बावजूद भी मझगवा जनपद सीईओ अशोक मिश्रा द्वारा एक भी फाइल मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सतना को प्रस्तुत नहीं की गई है जबकि मझगवाँ से ही 7 सचिवों का संविलियन नहीं किया गया है और एक सचिव रामसनेही शिवहरे को सम्मिलित होते हुए भी पूरा वेतन जनपद सीईओ मझगवाँ द्वारा किया जा रहा है जबकि 6 सचिवों के प्रति सौतेला व्यवहार कर आधा अधूरा वेतन दिया जा रहा है इससे स्पष्ट होता है कि जनपद सीईओ मझगवा द्वारा लेन-देन का मामला समझ में आ रहा है इस फर्जीवाड़े को छुपाने के लिए जिला पंचायत C.O. द्वारा फाइल प्रस्तुत करने का आदेश दिया गया है लेकिन उसके बावजूद भी जनपद सीईओ अशोक मिश्रा द्वारा प्रस्तुत करने में आनाकानी की जा रही है ।


Popular posts from this blog

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,

शिवराज सरकार के लिए खुशखबरी, इंदौर, भोपाल में रिकवरी दर बढ़ी

पुलिस द्वारा करीब एक करोड़ रुपए कीमती अवैध सुपारी भरा ट्रक पकड़ा