जिम्मेदारी पूर्वक करें लंबित शिकायतों का निराकरण: कलेक्टर

अपना लक्ष्य, सिंगरौली कलेक्टर केवीएस चौधरी ने राजस्व अधिकारियों के साथ साथ अन्य विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि सीएम हेल्पलाइन जनसुनवाई तथा आपकी सरकार आपके द्वार शिविर के दौरान प्राप्त आवेदन पत्रों का निराकरण रूचि लेकर किया जाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा कि अभी भी कई विभागों के द्वारा समयसीमा के अंदर शिकातयों का निराकरण नहीं किया गया है। जिसके कारण शिकायतें पोर्टल पर लंबित दिख रही है। उन्होंने कहा कि यह खेदजनक है विभागीय अधिकारी गंभीरता से शिकायतों का निराकरण निराकरण करे अन्यथा उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि न्यायालयों में चल संचालित रहे लंबित प्रकरणों के साथ साथ सीमांकन फौती नामांतरण निर्देश निर्देश के साथ भू-अर्जन के संबंधी प्रकरणों का निराकरण भी समय मे सुनिश्चित करे। कलेक्टर ने वनाधिकार पट्टो के निराकरण गो-शाला निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण करने के साथ साथ ग्रामों के लिए पेयजल व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित करने के लिए एक्शन प्लान तैयार करने का निर्देश दिया गया। लिए एक्श व्यवस्था सुचारन के साथ अपना लक्ष्य, सतना मैहर तहसील के छह व्यक्तियों को 24 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। अनुविभागीय अधिकारी मैहर से प्राप्त जानकारी के अनुसार मैहर तहसील के ग्राम करैया देवरी निवासी बबलू कोल को मां की सर्पदंश से मृत्यु होने पर, ग्राम बंदरिया जोवा निवासी रिया नागवंशी को पिता की सर्पदंश से मृत्यु होने पर, इटमा की अनीता कचेर को पिता की सर्पदंश से मृत्यु होने पर, ग्राम इचौल निवासी रामनरेश कुशवाहा को पुत्र की पानी में डूबने से मृत्यु होने पर, ग्राम ज्रूवा नरवार निवासी सतेंद्र कुमार पटेल को मां की पानी में डूबने से मृत्यु होने पर एवं ग्राम कुटाई निवासी कृष्णावती पटेल की आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु होने पर प्रत्येक को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है।