कलकत्ता की डायनमिक कंपनी  ने लगाया रेल्वे को चूना


 *कंपनी ने टर्न ओवर के दस्तावेजो मे हेराफेरी कर लगाया चूना
 *रेल्वे के वाणिज्य विभाग के "सिंघम" ऊर्जावान कर्तव्यनिष्ठ सीनियर डीसीएम अनुराग पटैरिया की जानकारी मे आने के बाद उन्होने तत्काल मामले की जांच कराई जिसमे इस मामले का खुलासा हुआ
 *कंपनी की सिक्युरिटी डिपाजिट हो सकती है राजसात
 *इटारसी रेल्वे जंक्शन का मामला
  इटारसी ।देश के महत्वपूर्ण रेल्वे जंक्शन इटारसी मे कलकत्ता की डायनमिक कंपनी जिसने की यांत्रिक सफाई का ठेका लिया था  । कंपनी के उस ठेके को आज शाम को पश्चिम मध्य रेल्वे भोपाल मंडल के वाणिज्य विभाग के द्वारा टर्मिनेट कर दिया गया है । कंपनी ने चार पांच माह पहले ठेका लेकर इटारसी जंक्शन मे  सफाई का काम शुरू किया था । गौरतलब रहे कि  पश्चिम मध्य रेल्वे भोपाल मंडल के वाणिज्य विभाग के सीनियर डीसीएम अनुराग पटैरिया को तकनीकी खामियो, का बेहत्तर ज्ञान है उनके बारे मे तो यहा तक चर्चाये है कि साहब को सी ए का भी बेहतर  नालेज है उन्होंने ही जब इस डायनमिक कंपनी के दस्तावेजो की बारीकी से जांच कराई तो मामले का भंडाफोड हुआ । ऐसा विस्वत सूत्रो का कहना है ।  गौरतलब रहे कि रेलवे के यांत्रिकी विभाग ने ई टेंडर प्रकिया के तहत कलकत्ता की डायनमिक कंपनी को सबसे कम रेट पर टेंडर भरने के कारण टेंडर दिया था । और   टेंडर कमेटी ही टेंडर मे भाग लेने वाली कंपनियो के दस्तावेजो की जांच करती है । टेंडर होने के बाद यांत्रिकी विभाग के पास से यांत्रिक सफाई का ठेका लेने वाली कंपनी का पूरा काम कामर्शियल विभाग के पास चला गया था ऐसा सूत्रो का कहना है ।बताया जा रहा है कि जब वाणिज्य विभाग मे डायनमिक कंपनी के ठेके सबंधी दस्तावेज ऊर्जावान की टेबिल पर पहुंचे तो उन्होने बारीकी से उन दस्तावेजो की जांच कराई । जांच के दौरान ही यह बात संज्ञान मे आई कि मामले मे ठेके लेने के लिए लगाये टर्नओवर सबंधी दस्तावेजो मे तकनीकी खामिया है  । जिसके कारण वाणिज्य विभाग ने तत्काल कंपनी का यांत्रिक सफाई का आज दिनांक  26/11/19  की शाम को निरस्त कर दिया है । ऐसा सूत्रो के हवाले से खबर आ रही है । सूत्रो की माने तो जल्द ही  कंपनी की डिपाजिट राशि भी राजसात कर ली जाएगी । गौरतलब रहे कि यहा पर कपंनी के द्वारा रेल्वे के साथ धोखाधड़ी की गई है । इस मामले मे कोई बडी कारवाई भी रेल प्रशासन कर सकता है । सूत्रो की माने तो यह बात भी सामने आ रही है कि डायनमिक कंपनी के टर्न ओवर संबधी दस्तावेजो मे ही तकनीकी खामिया उजागर होने की जनचर्चाये भी जोरो पर है,