के के पयासी सहायक प्रबंधक जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शहडोल को निलंबित कर दिया गया है।

अनूपपुर। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक प्रधान कार्यालय के पत्र क्रमांक/ स्थापना/2019-20/1268 दिनांक 08.11.19 को महाप्रबंधक द्वारा निर्देश जारी किया गया है कि कार्यालय आयुक्त शहडोल संभाग के पत्र क्रमांक /फा.क्र.01-08 पीए/ शिकायत/ 2019/6641 दिनांक 02.11.19 द्वारा दिये गये निर्देश के क्रम में के के पयासी सहायक प्रबंधक जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शहडोल को निलंबित कर दिया गया है। कार्यालयीन सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक शहडोल में पदस्थ सब इंजीनियर से बने सहायक प्रबंधक के के पयासी पर भ्रष्टाचार, चंदामामा के कार्यशैली को गंभीरता से लेते हुए संभागायुक्त आरबी प्रजापति के निर्देशानुसार निलंबित कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक श्री पयासी अपने निलंबन का अमूल्य समय राजेंद्रग्राम मुख्यालय में बितायेंगे। बताया गया है कि के के पयासी बैंक के समस्त अधिकारी-कर्मचारी एवं चतुर्थ वर्ग के कर्मचारियों से वेतनमान बढ़ाये जाने के लिए विगत कई वर्षों से चंदा वसूली की जा रही थी, जिसकी शिकायत कर्मचारियों द्वारा कमिश्नर के यहां की गई थी, कमिश्नर ने गंभीरता से लेते हुए उक्त मामले की जांच गिरी गिरी पयासी पर गिरी कमिश्रर की गाज । शानिए E कराकर दोषी पाये जाने पर सब इंजीनियर से बने सहा. प्रबंधक को निलंबन का आदेश जारी किए हैं। ज्ञातव्य है मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित . शहडोल द्वारा कार्यालय आयुक्त शहडोल संभाग me शहडोल के निर्देश के परिपालन में के०के० पयासी सहायक प्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय मर्यादित शहडोल के सातवें वेतनमान हेतु कर्मचारियों के लिए कुल ११.५८ लाख रूपये के संबंध में शिकायत की प्राथमिक जाँच कराई गई। शिकायत जाँच में संबंधित तथ्य प्रमाणिक होने के कारण श्री के०के० पयासी सहायक प्रबंधक को तत्काल प्रभाव से निलबित कर उनका मुख्यालय शाखा राजेन्द्रग्राम नियत किया गया है। निलंबन अवधि में उनका जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।