खंडवा पुलिस ने किया पंधाना के दोहरे हत्याकांड का चंद घंटों में पर्दाफाश

 


 खंडवा पंधाना थाना क्षेत्र के अंतर्गत रुस्तमपुर रोड पर बड़ी माता मंदिर के पास सुरेंद्र जैन के तुवर के खेत में किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा 16 नवंबर को धारदार हथियार से वार करके  महिला एवं बच्ची की हत्या कर दी गई थी। इस घटना की सूचना पर पंधाना थाने में अपराध पंजीबद्ध कर के खोजबीन शुरू की गई। पुलिस द्वारा जांच में सर्वप्रथम महिलाएं बच्ची की पहचान के लिए उनकी फोटो सोशल मीडिया के विभिन्न  ग्रुपों पर डाली गई पुलिस द्वारा मुखबिर सूचना तंत्र भी सक्रिय किया गया।पुलिस ने चार अलग-अलग टीमें बनाकर विभिन्न दिशाओं में रवाना किया उप पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक खंडवा द्वारा घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुए एफएसएल की टीम के माध्यम से भौतिक सबूत इकट्ठे कराए गए इधर मुखबिर से सूचना मिलते ही  सुनीता पति राकेश और उनकी पुत्री शिवानी के रूप में पहचान हुई मृतिका के पति से पूछताछ में पता चला कि उनकी पुत्री शिवानी कुछ दिनों से बीमार थी जिस के इलाज हेतु झाड़-फूंक कराने तांत्रिक शेर सिंह उर्फ तेर सिंह निवासी भील खेड़ी के घर जाकर इलाज करवा रहे थे 4 दिन पूर्व ही झाड़-फूंक कराने गए थे घटना वाले दिन उन्हें  और बुलाया गया साथ में बच्ची को भी ले गए वही शेर सिंह के पुत्र रमेश से कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया कि सुनीता मेरे घर से वापस जाते समय गांव के रास्ते से पैदल जाते हुए मिली तो मैंने कहा कि मैं घर छोड़ देता हूं क्योंकि मृतिका रमेश से पूर्व से परिचित थी इसलिए उसकी मोटरसाइकिल पर बैठ गई मौके का फायदा उठाकर रमेश ने बड़ी माता मंदिर के पास से सुरेंद्र जैन की तुवर के खेत में अंदर ले जाने लगा तो उसने मना किया इस पर आरोपी ने हाथ पकड़कर जबरदस्ती तुवर के खेत में ले गया वहाँ जमीन पर पटक दिया गोद में बैठी बच्ची नीचे गिर गई सुनीता चिल्लाई उसे चाकू दिखाकर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। सुनीता ने रिपोर्ट करने का कहा तो रमेश ने आवेश में आकर सुनीता के गले पर धारदार चाकू से वार कर दिया इस बीच बच्ची शिवानी रोने लगी तो आरोपी ने रमेश ने उसे धारदार चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी फिर अपनी मोटरसाइकिल से घर पहुंचा और कपड़ों पर लगा खून देखकर उसके पिता शेर सिंह ने पूछा तो उसने बताया की सुनीता   और उसकी बच्ची की उसने हत्या कर दी है तांत्रिक पिता ने खून से सने कपड़े छुपाने और सुनीता को अपने घर झाड़-फूंक करने आने का मना करने को कहा। आरोपी रमेश के पिता को साक्ष्य मिटाने एवं आपराधिक षड्यंत्र में शामिल होने पर धारा 201 ,120b भारतीय दंड विधान के तहत आरोपी बनाया गया। आरोपी गणों को गिरफ्तार करने वाली टीम के सदस्य डॉ विकास मुझालदा एफएसएल अधिकारी निरीक्षक जेयू सिद्धकी प्रभारी पंधाना उप निरीक्षक राधेश्याम मालवीय उप निरीक्षक एस एल भवर सहायक उप निरीक्षक सुरेश यादव सहायक उप निरीक्षक सुरेश पाटिल सहायक उप निरीक्षक प्रताप वास्कले प्रधान आरक्षक अनिरुद्ध आर सुनील आर धर्मेंद्र और सचिन आरक्षक संगीता व अन्य कर्मचारियों को पुलिस अधीक्षक खंडवा शिवदयाल सिंह द्वारा ₹10000 का इनाम से पुरस्कार पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।


खंडवा एसपी डॉक्टर शिवदयाल सिंह द्वारा सम्मानित
खंडवा सीएसपी ललित गठरे, एफएसएल अधिकारी डॉ विकास मुझालदा एवं एसडीओपी  केपी डेविड को इस मामले का खुलासा करने में सराहनीय भूमिका निभाने के लिए डॉक्टर शिवदयाल सिंह  द्वारा सम्मानित किया गया ।



1 फ़ोटो हत्या के आरोपी
2 खंडवा एसपी डॉक्टर शिवदयाल सिंह द्वारा सम्मानित डॉक्टर विकास मुझालदा
3 खंडवा एसपी डॉक्टर शिवदयाल सिंह द्वारा सम्मानित एसडीओपी केपी डेविड
4खंडवा एसपी डॉक्टर शिवदयाल सिंह द्वारा सम्मानित सीएसपी ललित गठरे


Popular posts from this blog

पैदल यात्रा निकाल रहे 2 कांग्रेस विधायक को पुलिस ऐसे ले गयी

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

27 की उम्र में पति बना 4 फुट का छोटू, अपने जैसी कद काठी वाली लड़की से रचाया निकाह