किराये की दुकानों के बाहर अतिक्रमणकरियो का कब्जा

 


न.प.उपयंत्री आशुतोष तिवारी दे रहे अतिक्रमणकरियो को बढ़ावा



अमरपाटन - खुले आम लगा नगर परिषद के नाक के नीचे अतिक्रमण को हटाने में नगर परिषद अमला नाकामयाब साबित होते नजर आ रहे हैं , 
नगर परिषद के नीचे की दुकानों का किराया दुकानदार तो दे रहे हैं मगर उनके दुकान के बाहर अतिक्रमण वालो के गाड़ी का पार्किंग का अड्डा बना दिया गया हैं ।
वर्ष 2018 में नगर परिषद के नीचे लगे अतिक्रमण का नोटिस भी जारी किया गया था मगर नगर परिषद के अधिकारियों के मिलीभगत के चलते  कोई कार्यवाही नही की गईं और फिर लोगो के रौब के चलते और गोम्तिया जमा के अतिक्रमण को बढ़ा दिया गया ।
हालही में कुछ महीने पहले पदस्थ हुई नगर परिषद सीएमओं शिवांगी सिंह बघेल को भी इस बात से दूर रखा जा रहा हैं  उनको इस अतिक्रमण के बारे में बिकुल भी नही बताया जा रहा है और शायद मैडम को नजर भी नही आ रहा हैं।
 और इस अतिक्रमण को बढाने में इंजीनियर आशुतोष तिवारी का अहम योगदान साबित हो रहा हैं क्योंकि नगर परिषद के पुराने अधिकारी होने नाते वो मुख्य अधिकारी को अतिक्रमण के बारे में बताने से कतरा रहे है । 
आखिर क्यों नजर नही आ रहा अतिक्रमण। क्या त्योहारों में दुकान लगाने वाले गरीब दुकानदारो के लिए बस नगर परिषद हैं