माधव आईटीआई की अवैध बिल्डिंग पर नगर निगम अतिक्रमण प्रभारी कव करेंगे कार्यबाही

   नगर निगम सतना मे कार्यरत अधिकारी व कर्मचारी कितनी तीव्र गति से काम करते हैं इसका एक उदाहरण  अतिक्रमण विभाग में देखने को मिल रहा है। दिनांक 6 जून 2019 को बांधवगढ़ कॉलोनी स्थित एक अवैध निर्माण तीन मंजिला भवन जिसमें माधव आईटीआई विद्यालय संचालित है। अतिक्रमण विभाग  फाइल को कछुआ की गति से चलाते हुए कचरा दान में डाले हुए हैं। नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी जो इस अतिक्रमण कार्य को देखते हैं। माधव आईटीआई के संचालक के सामने नतमस्तक हैं. इसके पीछे क्या रहस्य है यह तो समझ से परे है। आज दिनांक तक माधव आईटीआई की फाइल नगर निगम के कार्यालय में एक टेबल से दूसरे टेबल तक घूम रही है लेकिन कार्यवाही के नाम पर शून्य है ऐसा लगता है कि नीचे से ऊपर तक सब पैसे के आगे  या ये कहे कि माधव आईटीआई के सामने नतमस्तक है।  बड़े शर्म और अफसोस की बात है छोटे-मोटे  दुकानदारों को जो रोजाना सड़क पर बैठ कर के अपने परिवार का पोषण करते हैं और नगर निगम को  बैठकी का पैसा भी देते हैं, उन्हें यह अतिक्रमण कारी अधिकारी जब चाहते हैं तब भगा देते हैं लेकिन माधव आईटीआई के अवैध निर्माण के आगे सब मौन बने हुए हैं, ऐसा लगता है कि नगर निगम की कानून व्यवस्था समाप्त हो गई है सिर्फ जनता को लूटने के लिए  ही अतिक्रमण कारी अधिकारी और कर्मचारियों की फौज सतना नगर निगम ने बना रखी है।


Popular posts from this blog

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

जनता के हितार्थ कार्य ही मेरी पहली प्राथमिकता : सुनील सराफ