मध्य प्रदेश से 42 लाख हैक्टेयर सरकारी जमीन गायब, 20 लाख करोड़ का घोटाला!

Ⓜ🅿


✍आईएएस अफसर मनीष रस्तोगी ने अब एक नए घोटाले का खुलासा किया है। प्रमुख सचिव राजस्व विभाग मनीष रस्तोगी ने पाया है कि सरकारी रिकॉर्ड से 42 लाख हैक्टेयर जमीन गायब हो गई है। यह जमीन 1980 से 2000 के बीच सरकारी रिकॉर्ड से गायब हुई। हर साल थोड़ी-थोड़ी जमीन प्रदेश से गायब होती हुई। माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश के हर जिले में सरकारी रिकॉर्ड से जमीन गायब हुई है। सवाल यह है कि क्या यह किसी भूमाफिया के लिए किया गया बड़ा घोटाला है। या फिर पूरे प्रदेश में कलेक्टर ने अपने अपने स्तर पर अलग-अलग घोटाले किए।



कुछ गड़बड़ी है, इसलिए शुरू की जांच


1980 से 2000 के बीच वन विभाग और राजस्व विभाग की कुछ जमीनों को लेकर गड़बड़ियां हुई हैं, इसलिए यह जांच की जा रही है। जमीन तो मौके पर है, लेकिन किसके खाते में दर्ज है इसका पता लगाया जा रहा है।


     मनीष रस्तोगी
 प्रमुख सचिव राजस्व