पक्षीराज बस सर्विस की मनमानी के कारण बराती होते रहे परेशान बार बार बस बदलने के लिए खाते रहे धक्के।


मैंहर। सीधी से कटनी स्टेशन तक पक्षीराज बस सर्विस ने 24 नवम्बर को बरात के लिए बुक किया गया लेकिन पूरा पैसा लेने के बाद बस मालिक ने अपने बस की परमिट नही होने के कारण बेला में बस को पलटी कर दिया तिवारी कोच बस में जब बस मैंहर पहुची तो तिवारी कोच की बस चालक बस व बारातियों को छोड़कर भाग खड़ा हुआ और बरातियों ने डायल 100 को फोन कर बुलाये जबकि की बराती लड़की की शादी के लिए बस से कटनी तक जाना और उसके बाद ट्रेन से आगे जाना था जब बस चालक छोड़कर भाग गया और मौके पर डायल 100 आने के बाद व्यवस्था में जुटे, सवाल  ये उठता है कि इन बस मालिको की मनमानी और बुक कर रुपया पहले ले लेना और और उसके बाद जगह जगह बसों को पलटी करना क्या बीतेगी बारातियों पर जब सामानों को बार बार पलटी करना पड़ेगा तो जिस सुविधा के लिए लोग इन फर्जी बस मालिको के चक्कर मे पड़ जाते है और बस मालिक ये भली भांति जानते है कि बरात का मामला है किसी भी हाल में छोड़ दो खुद निपट लेंगे क्योकि की बरात को समय पर पहुचना है कारण की बस मालिक रुपया पहले ही ले ले ते है आज के जमाने मे भी रसीद में ये नही लिखा जाता कि बस कौनसी जाएगी नम्बर क्या है बस का अगर लिख भी देते है तो गाड़ी खराब बताकर भी परेशान कर देते है यानी शादी वाले मामले में बस मालिक तरह तरह के हथकंडे रखे रहते है जिसका नतीजा आज सीधी के बराती मैंहर में धक्के खाते नजर आए।