प्रशासन के फरमान के बाद भी क्षेत्र में फल-फूल रहे रेत का कारोबार

अपना क्ष्य


सिंगरौली प्रशासन द्वारा रेत के उत्खनन व परिवहन पर रोक लगाने के बाद भी जिले में अवैध रूप से रेत के उत्खनन एवं परिवहन का कारोबार फल-फूल रहा है। सुबह-शाम जहां बड़े वाहनों से यह कारोबार होता है वहीं दिन में ट्रैक्टरों का दौड़ना सतत जारी रहता है। समझ के परे तो यह बात है कि जब रेत के उत्खनन एवं परिवहन पर रोक है तो फिर सुबह-शाम बड़ी गाड़ियों से एवं पूरे दिन दनदनाते ट्रैक्टरों से परिवहन होने वाला रेत आता कहां से है। सबसे अहम बात तो यह है कि रोक के बाद भी परिवहन उसी रफ्तार से आखिर कैसे। इस कारोबार की जानकारी आन रिकार्ड भले ही पुलिस को न हो पर हर वह संभावित चौराहा जहां से यह ट्रैक्टर गुजरते हैं पुलिस की नजरों में है तथा पुलिस के जावाज सिपाही उन तक पहुंचते भी है। फिर ऐसा क्या होता है कि सबकुछ आफ रिकार्ड ही रह जाता है


Popular posts from this blog

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

जनता के हितार्थ कार्य ही मेरी पहली प्राथमिकता : सुनील सराफ