प्रशासन के संरक्षण के चलते बालू माफियाओं ने नहीं बक्से  रोड

 


 राजनगर मैं बालू माफियाओं का कहर इतना सर चढ़कर बोल रहा है कि खदानों के साथ-साथ मेन रोड को भी नहीं बक्सा जा रहा हैं जी हां हम बात कर रहे हैं राजनगर तहशील कि जहां  राजनगर से कुछ ही दूरी चौबर गांव के पास पुलिया को इस कदर बालू माफियाओं के द्वारा दिन-रात अबैध उत्खनन कर क्षतिग्रस्त कर दिया गया है कि वहां कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है जिसका आम जनता को नुकसान भुगतना पड़ सकता है और साथ ही रेत के अबैध उत्खनन की बजह से बिजली का खम्मा जो कि कभी भी बीच रोड पर गिर कर  यातायात को प्रभावित कर बड़े हादसे को न्योता दे सकता है


अब सवाल यह उठता है कि क्या प्रशासनिक अधिकारी बालू माफियाओं से डरते है या फिर मोटी रकम वसूल करते है
 
बालू माफियाओं की वजह से राजनगर से महोबा रोड की दुर्दशा भी देखने लायक बनती है जहां अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर ट्राली ट्रक निकलने से बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं जिससे कभी भी कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है लेकिन ना तो प्रशासन को इसकी सुध है और न ही जनप्रतिनिधियों को


 तो वहीं क्षेत्र की जनता जनप्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारियों से उम्मीद लगाकर बैठी हुई है कि कोई तो खराब रोडो के गड्डो की मरम्मत करवाकर आवागमन की सुविधा कर जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेगी


 


Popular posts from this blog

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

जनता के हितार्थ कार्य ही मेरी पहली प्राथमिकता : सुनील सराफ