राहुल ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का शालीनता से किया स्वागत: शिवसेना

apna lakshya news


कहा, हिंदुस्तान ही दिखा सकता है बाबर के नाम पर 5 एकड़ जमीन खैरात देने की दिलदारी


शिवसेना ने राहुल गांधी की तारीफ करते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद उन्होंने अत्यंत शालीनता से अयोध्या मामले में निर्णय का स्वागत किया। वहीं के सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी पर हमला बोला गया है। शिवसेना ने कहा है कि बाबर के नाम पर 5 एकड़ जमीन खैरात देने की दिलदारी सिर्फ हिंदुस्तान ही दिखा सकता है। ओवैसी के तथाकथित सत्य का मकबरा अफगानिस्तान में पड़ा है। शिवसेना ने कहा कि प्रभु श्रीराम का जन्म अयोध्या में होने को लेकर जारी विवाद पर ऐतिहासिक फैसला आ गया है। प्रभु श्रीराम अयोध्या में ही जन्मे थे। वे ही अयोध्या के स्वामी हैं और जहां उनका जन्म हुआ उस जगह पर राम का भव्य मंदिर बनाया जाएगा। ऐसा निर्णय देश की सर्वोच्च न्यायालय ने दिया है। पांडवों ने कौरवों पर जीत हासिल की वैसी ही यह जीत हैअयोध्या में राम मंदिर बने इसके लिए जिन सैकड़ों रामभक्तों और कारसेवकों ने अपना बलिदान दिया, यह उनके संघर्ष की जीत है। पूरे देश की निगाहें फैसले पर टिकी थीं। सर्वोच्च न्यायालय की विशेष खंडपीठ अयोध्या विवाद के लिए स्थापित की गई थी। उसने बीते कई महीनों तक इस प्रकरण से संबंधित सभी पक्षकारों का पक्ष प्रतिदिन सुना और अंतत निर्णय दिया है कि अयोध्या में विवादित जमीन हिंदुओं की ही है