राजधानी में बारिश ने बढ़ाई नमी, वायु गुणवत्ता बेहद खराब स्तर पर पहुंची

गुणवत्ता बेहद नई दिल्ली,एजेंसी देश की राजधानी इन दिनों हवा में प्रदूषण को लेकर खासी चर्चा में है और गुरुवार को वायु गुणवत्ता एक बार फिर 'बहुत खराब' की श्रेणी में आ गई। हल्की बारिश के चलते नमी बढ़ने से ऐसा हुआ। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। दिल्लीवासी धूप निकलने और हवा की गति में सुधार आने के बाद पिछले तीन दिनों में कम प्रदूषित हवा में सांस ले रहे थे लेकिन गुरुवार को नमी बढ़ने से प्रदूषण का स्तर भी बढ़ गया। रविवार को भी हल्की बारिश ने नमी बढ़ा दी थी जिससे शहर की आबोहवा दमघोंटू हो गयी थी। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि भारी नमी और अब बसों का भाजपा हल्की हवाओं के चलते प्रदूषकों का फैलाव बढ़ा और इसके चलते अधिक संख्या में द्वितीयक कणों के निर्माण को बढ़ावा मिला। द्वितीयक कण वे हैं जो प्राथमिक प्रदूषकों और अन्य वायुमंडलीय घटकों जैसे सल्फर- डाईऑक्साइड और नाइट्रोजन डाईऑक्साइड पर पर पहुंची के साथ जटिल रासायनिक प्रभाव से पैदा होते हैं। ये वायुमंडलीय घटक आग जलने और वाहनों के धुएं से निकलते हैं। द्वितीयक कणों में सल्फेट्स, नाइट्रेट्स, ओजोन और ऑर्गेनिक एरोसोल शामिल हैं। दिल्ली का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) शाम चार बजे 309 था। ये बुधवार रात साढ़े नौ बजे 342 पहुंच गया। पड़ोसी नोएडा (366), गाजियाबाद (365), ग्रोटर नोएडा (352) और फरीदाबाद (342) में भी वायु गुणवत्ता प्रभावित हुई।