सुप्रीम कोर्ट का निर्णय स्वीकार, लेकिन रिब्यु कानूनन हक़ : शहर मुफ़्ती


अलीगढ के शहर मुफ़्ती खालिद हमीद ने अयोध्या प्रकरण पर कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट का फैसले को स्वीकार करते है। लेकिन रिब्यु का हक़ भी हमें कानून ने ही दिया है। शहर मुफ़्ती ने रिब्यु पर सवाल उठाने वालों से पूछा है कि अगर कोर्ट का फैसला मस्जिद के हक़ में आता तो हमारे हिन्दू भाई को रिब्यु का हक़ था। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी माना है कि मूर्ति रखना व् ढांचा गिराना गलत था। इसके आलावा सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली मेयर की वीडियो के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इसे अफ़सोस जनक बताया। उन्होंने कहा कि अल्लाह ने अबे-जमजम को अन्य सभी पानी पर तरजीह दी है। अगर कोई शख्स कैसे भी पानी को अबे-जमजम समझकर पीता है तो वह ईमान से खारिज हो जाता है। लेकिन मेयर का पद बड़ा ही गरिमा वाला होता है। इसलिए मेयर को ऐसे समय पर थोड़ी एहतियात बरतनी चाहिए।