उचेहरा के शिक्षकों ने समय से 4 घंटे पहले ही कर दी स्कूल की छुट्टी।

 


रामनगर। सरकारी विद्यालयों को सुधारने के लिए भले ही तमाम नियम-कानून हैं, शिक्षकों को शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने केलिए समय-समय पर तमाम निर्देश दिये जाते हैं मगर शिक्षक अपनी ही मनमानी करते हैं। इसी की एक नजीर सोमवार को उस समय देखने को मिला जब शासकीय प्राथमिक विद्यालय उचेहरा जन शिक्षा केंद्र देवदहा निर्धारित समय से पहले बंद कर दिया गया। पाठशाला में दोपहर दो बजकर सात मिनट पर यह संवाददाता पहुंचे तो परिसर के गेट पर ताला लटका हुआ था। यह एक दिन का नहीं है।



रोजाना विद्यालय में छुुट्टी के निर्धारित समय से पहले विद्यालय को बंद कर शिक्षक-शिक्षिकाएं अपने घर चले जाते हैं। यह कहना है स्कूल के आसपास के लोगों का। स्कूल कब बंद हुआ, इस बारे में जब आसपास के लोगों से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि करीब डेढ़ बजे स्कूल बंद हो गया था। बताया कि रोजाना ही जल्दी स्कूल बंद हो जाता है जबकि नियम के अनुसार स्कूल में छुट्टी का समय 40:30 बजे का है।