अशिक्षित मंत्री के हाथों में मध्यप्रदेश का भविष्य कैसे सुरक्षित होगा

 


      मध्यप्रदेश में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए 16 अयोग्य  शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई । निश्चित रूप से यह शिक्षक देश के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे थे। जो शिक्षक किताब देखकर भी प्रश्न पत्र हल ना कर सके ऐसे आयोग्य शिक्षकों के साथ सरकार ने उचित किया। कमलनाथ सरकार का यह साहसिक निर्णय है।


        दूसरी तरफ मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी सुमन मुख्यमंत्री का संदेश  देखकर भी नहीं पढ़ पाई थी ।
         कमलनाथ सरकार को समानता का व्यवहार करना चाहिए और ऐसी अयोग्य मंत्री को मंत्रिमंडल से अनिवार्य सेवानिवृत्ति देना चाहिए  जब अयोग्य शिक्षकों के हाथ में बच्चों का भविष्य असुरक्षित है तो अशिक्षित मंत्री के हाथों में मध्यप्रदेश का भविष्य कैसे सुरक्षित होगा इस प्रश्न का उत्तर चाहिए