मानवता हुई फिर शर्मशार  बैलगाड़ी मे ले जाने पड़ रहे शव

 


पन्ना के शाहनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे मृत्यु के बाद फिर एक लाश को ना मिल सका शव वाहन , बैलगाड़ी पर शव को ले जाने परिजन हुए मजबूर, बड़ा सवाल जीते जी है शासन की सारी योजनाएं लेकिन मरने के बाद  घर तक सम्मान से शव पहुचाने नही है वाहन ।



Popular posts from this blog

आंगनबाड़ी केंद्र वार्ड नं 13 में किया गया टीकाकरण कार्यक्रम

कोतमा में राजश्री सहित कई  उत्पादों की कालाबाज़ारी जोरों पर

जनता के हितार्थ कार्य ही मेरी पहली प्राथमिकता : सुनील सराफ