मानवता हुई फिर शर्मशार  बैलगाड़ी मे ले जाने पड़ रहे शव

 


पन्ना के शाहनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे मृत्यु के बाद फिर एक लाश को ना मिल सका शव वाहन , बैलगाड़ी पर शव को ले जाने परिजन हुए मजबूर, बड़ा सवाल जीते जी है शासन की सारी योजनाएं लेकिन मरने के बाद  घर तक सम्मान से शव पहुचाने नही है वाहन ।



Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

3 जिले पूरी तरह सील, 11 जिलों में टोटल लॉकडाउन, बाहर निकले तो होगी FIR

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,