नेताओं का प्याज - टमाटर पर रोना , फलों को पकड़ा देते कोना

 


कटनी - प्याज रुलाता है ये तो सभी को पता है लेकिन प्याज की बढ़ी कीमत भी रुलाती आज पता चला । प्याज भी क्या चीज है जिसके कीमत बढ़ने से न जाने किसको भारी मुसीबत हो रही । शाकाहारी वालों को  या मांसाहारी वालों को जो भी हो प्याज की रियाज जारी है ।  किसानों की फसल बर्बाद हो इसका रोना सामने कम आता लेकिन प्याज , टमाटर की कीमत बढ़ने से जनता से अधिक लाल नेता हो जाते और रोना भी गरीबों के नाम पर , आखिर सेब , केला , संतरा , अनार , पपीता आदि फलों की कीमत बढ़ने का कोई असर न हो हल्ला इसका मूल कारण क्या हो सकता है ?





Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

3 जिले पूरी तरह सील, 11 जिलों में टोटल लॉकडाउन, बाहर निकले तो होगी FIR

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,