नोएडा में हरे भरे पेड़ों की जान ले रही हैं अमरबेल की लताएं, बचाने की तैयारी

 


 
नोएडा शहर में हरे भरे पेड़ों को अमरबेल काफी नुकसान पहुंच रहे हैं। एक बार पेड़ पर चढ़ने के बाद यह तेजी से फैलती है और पूरे पेड़ को ढक लेती है। पेड़ के हिस्से का भोजन भी सोखने लगती है। फिर धीरे-धीरे पेड़ सूख जाता है। अमर बेल के कारण प्रत्येक वर्ष सैकड़ों पेड़ सूखकर नष्ट हो रहे हैं। पीले रंग की अमर बेल इतनी ताकतवर होती है कि पेड़ों को पनपने ही नहीं देती। ये सेक्टर-62, 58, 44, 46, 55, 56, 100 के अलावा कई पार्कों में देखने को मिल जाएंगी। पेड़ों को बेल से बचाने और पर्यावरण सुरक्षित रखने के लिए नोएडा प्राधिकरण, जिला प्रशासन या फिर वन विभाग किसी ने कोई कदम नहीं उठाया है। अमर बेल की लताओं को काटकर पेड़ों को बचाया जा सकता है। समय रहते इसे नहीं हटाया गया तो शहर में कई और पेड़ सूख जाएंगे। इसके लिए प्रशासन को जल्द कदम उठाना होगा। लोग कहते हैं पेड़ पौधों के लिए अमरबेल की लताएं नुकसान दायक हैं। एक तरफ सरकार पौधों को लेकर अभियान चला रही है। दूसरी तरफ पेड़ पौधे मर रहे हैं। अमरबेल की लताओं को काटकर पेड़ों को बचाया जा सकता है। चंद्रप्रकाश गौड़ , निवासी सेक्टर 46 नोएडा कई बार प्राधिकरण से शिकायत के बाद भी कोई बचाव नहीं किया जा रहा। सेक्टर-62 में एक साल में करीब 10 पेड़ सूख गए। करीब 100 से ज्यादा पेड़ों पर इसकी लताएं फैल चुकी हैं। अमित गुप्ता, समाज सेवी हम प्राधिकरण के अधिकारियों के समाने मुद्दा उठाएंगे। साथ ही मुहिम चलाकर इसे हटाने तथा पेड़ों को इनके चंगुल से बचाने का कार्य करेंगे। साथ ही अमरबेल के कुप्रभावों से लोगों को जागरूक किया जाएगा। पवन यादव, फोनरवा सचिव हमारे पास शिकायत आएगी तो हम अमरबेल को कटवाकर पेड़ों को बचाएंगे। साथ ही इसको लेकर बेहतर उपाय और क्या हो सकते हैं। इस पर जल्द कार्रवाई करेंगे। पीके श्रीवास्तव , डीएफओ