पटवारी की मिली भगत से अबैध उत्खनन पर हो रही लीपापोती


मैहर के ग्राम बाठिया में जांच करने पहुचे नायाब तहसीलदार को हल्का पटवारी ने किया भ्रमित, पटवारी की सह पर होता था अबैध खनन, पटवारी ने 200/300 का ही बनाया पंचनामा,जबकि बाठिया के 724 रकवा में पूरी तरह से हुआ उत्खनन,हल्का पटवारी कई सालों से है पदस्थ, फिर भी नही दी अबैध उत्खनन की जानकारी,724 का नक्शा नही है तरमीम, नायब तहसीलदार प्रदीप तिवारी ने माना कि पूर्व में भी हुआ खनन जहा पर पानी भरा हुआ है, 724 रकवा नम्बर उर्मिला पिता बद्री के नाम से दर्ज,!