पति की हत्यारिन निकली पत्नी प्रेमी के साथ मिलकर दिया घटना को अंजाम


सतना। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी व प्रभारी एसडीओपी चित्रकूट हिमाली सोनी के मार्गदर्शन में नयागांव थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह जयशूर की टीम ने एक युवक की अंधी हत्या का सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्यारिन पत्नी को उसके कथित प्रेमी के साथ गिरफ्तार करने में सफलता अर्जित की है। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि नयागांव थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह जयशूर की टीम ने संदेह के आधार पर जब मृतक देवनारायण पटेल की पत्नी गुड़िया (23 वर्ष) निवासी खर्री थाना कोतवाली कर्वी हाल मुकाम मोहनगढ़ थाना नयागांव एवं उसके प्रेमी सुधीर उर्फ सुंदर पटेल पिता मुन्ना पटेल (23 वर्ष) निवासी सपा थाना कोतवाली कर्वी हाल मोहनगढ़ थाना नयागांव का अभिरक्षा में लेकर सघन पूछताछ की, तो दोनों आरोपी पहले इधर उधर की बातें बता गांव के अन्य 2 युवकों पर घटना को अंजाम देने का संदेह व्यक्त कर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। लेकिन जब संदेहियों से सख्ती से पूछताछ की गई, तो दोनों ने हत्या का राज उगल दिया। दोनों संदेहियों ने 28-29 नवंबर 2019 की दरम्यानी रात्रि को देव नारायण के कमरे में ही साड़ी के किनारे के कपड़े से गले में फंदा डाल गला दबाकर हत्या करना स्वीकार किया। संदेहियों ने पुलिस को बताया कि मृतक देवनारायण की लाश को ऑटो क्रमांक यूपी 96 टी 0918 श्री हनुमान धारा रोड ले जाकर छुपा दिया। पुलिस ने संदेहियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त ऑटो क्रमांक यूपी 96 टी 0918 व साड़ी का किनारा बरामद कर जप्त कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतक देव नारायण और आरोपी सुधीर पटेल ऑटो चलाते थे। दोनों की दोस्ती हो जाने से सुधीर पटेल 6 माह से देव नारायण पटेल के साथ उसी के मकान में रहने लगा था। नेम प्रेम बढ़ जाने के कारण मृतक की पत्नी आरोपिया गुड़िया पटेल से सुधीर के प्रेम संबंध हो गए थे। सुधीर व गुड़िया दोनों ने मिलकर देव नारायण को रास्ते का कांटा समझ इस घटना को अंजाम दे दिया। हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी में प्रभारी एसडीओपी चित्रकूट सुश्री हिमाली सोनी, थाना प्रभारी नयागांव योगेंद्र सिंह जयशूर, उप निरीक्षक राजेंद्र कुशवाहा, परि. उपनिरीक्षक रूपेंद्र राजपूत, सहायक उपनिरीक्षक कप्तान सिंह, सहायक उपनिरीक्षक बीएस तोमर, सहायक उपनिरीक्षक आर.डी. बंसल, प्रधान आरक्षक शिवप्रसाद बागरी, आरक्षक गणेश विश्वकर्मा, उत्कर्ष, मुन्ना, श्यामलाल, विमलेश कुमार, प्रबल प्रताप सिंह, विवेक सिंह, शशांक, चंद्रकांत महिला आरक्षक आरती प्रजापति का उल्लेखनीय योगदान रहा।
घटना का विवरण :- 30 नवंबर 2019 को योगेश उर्फ अंगद पिता बद्री प्रसाद पटेल (23 वर्ष) निवासी ठर्री चौकी शिवरामपुर थाना कोतवाली कर्वी ने थाना नयागांव में सूचना दी कि उसका बड़ा भाई देव नारायण पटेल (34 वर्ष) 29 नवंबर 2019 की रात्रि करीबन 2 बजे मोहकमगढ़ से बिना बताए लापता था, जिसकी लाश हनुमान धारा बाईपास रोड के किनारे महुआ के पेड़ के नीचे पड़ी मिली है। इस सूचना पर थाना नयागांव में मर्ग क्रमांक 45/19 धारा 174 द.प्र.स.पंजीबद्ध किया गया। थाना प्रभारी नयागांव योगेंद्र सिंह जयशूर द्वारा घटना की सूचना तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई और इस संदर्भ में प्राप्त निर्देश पर अपनी टीम को लेकर वह घटनास्थल हनुमान धारा बाईपास रोड मोहकमगढ़ पहुंचे। घटना स्थल एवं मोहकमगढ़ में मृतक देव नारायण पटेल के निवास के आसपास लोगों से पूछताछ कर घटना के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान मृतक की पीएम रिपोर्ट प्राप्त होने पर अपराध क्रमांक 193/19 धारा 302,201, 34 भादवि का मुकदमा पंजीबद्ध किया गया।



आपराधिक रिकार्ड :- आरोपी सुधीर पटेल आपराधिक किस्म का व्यक्ति है। पूर्व में वह वर्ष 1994 व 2019 को मध्यांचल बैंक पालदेव के बैंक मैनेजर अवध किशोर रावत के साथ लूटपाट की घटना में जेल में था। जिस पर से अपराध क्रमांक 68/19 धारा 393 भा.द.वि. 25/27 आर्म्स एक्ट 11/13 एडी एक्ट पंजीबद्ध किया गया था। अभी हाल ही पांच छह माह पूर्व वह जेल से छूटकर बाहर आया है।