फर्जी एडिसनल एस0पी0 बनकर पेट्रोल पम्पों से पैसा खातो मे डलवाने 02 आरोपी गिरफतार



                               
घटना विवरण-
दिनांक 23-07-2019 को थाना जसो में फरियादी मोहित सिह परिहार पिता श्यामबहादुर सिंह उम्र 30 वर्ष निवासी उतैली का  लिखित आवेदन दिया कि दिनांक 19-07-2019 थाना जसो के मुशी मोतीलाल पटेल के फोन में ए0एस0पी0 सतना का फोन आया है बात करलें तथा मोबाईल नं0 9772552491 नं0 से बात करने को कहे जाने पर फरियादी द्वारा अपने मोबाईल नं0 9993889669 से बात करने पर टूूकाॅलर में ए0एस0पी0 सतना का होना दर्शाता था बात करने पर फर्जी ए0एस0पी0 द्वारा सरकारी एकाउट से 49000 व 49000 दो बार में आपके एकाउंट में टाॅसफर करता हू और आप वह राशि मेरे बताये अनुशार एकाउट नं0 61037985616 एवं 55157675273 नं0 पर डलवा देने कहाॅ जो फरियादी मोहित सिंह परिहार द्वारा अपने मोबाइल से 49000 रूपये खाता नम्बर 61037985616 में डलवा दिया । बाद  पता चला कि उसके साथ फर्जी एडिएसन एस0पी0 बनकर 49000 रूपये अपने खातों मे ट्रासंफर कराए है । रिपोर्ट पर थाना जसो में अपराध क्रमांक 135/19 धारा 420 ता0हि0 का अपराध पंजीबद्व कर अनुसंधान में लिया गया । मामले सदर मे अनुसंधान के दौरान साक्ष्य एकत्रित किए गए ए जिसमें लोकेश नेवला निवासी आनंद बिहार रेल्वे कालोनी जगतपुरा के नाम का खाता  होना पाया गया । 
   इसी तरह थाना अमदरा में शिकायतकर्ता संयय राय पिता राजाराम राय उम्र 37 साल निवासी रीठी थाना रीठी जिला कटनी हाल मैनेजर रिद्वी सिद्वी पेट्रोल पम्प का रिपोर्ट किया कि दिनंाक 19-07-19 को उपरोक्त नम्बर द्वारा फजी एडिसनल एस0पी0 बनकर 60000 रूपये बच्चों की फीस जमा करने को कहने पर अपने मोबाइल नम्बर 9165512255 से पैसा बैक खाता 55157675273 एवं 61037985616 में जमा कराया बाद फर्जी होने की जानकार होने पर दिनांक 19-07-2019 को थाना अमदरा में 225/2019 धारा 420 ता0हि0 का अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया है। 
   मामले की गंभीरता को देखते हुए श्रीमान् पुलिस अधीक्षक महोदय श्री रियाज इकबाल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री गौतम सोलंकी  के मार्गदर्शन मे एक टीम का गठन किया गया । टीम को  उक्त दोनो अपराधो की विवेचना मे सायबर सेल सतना से जानकारी प्राप्त हुई कि जिन खातो एवं मोबाइल का इस्तेमाल उक्त राशि एवं काल करने मे हुआ है, वे खाते एवं मोबाइल राजस्थान मे संचालित है विवेचना दौरान पुलिस टीम को पता चला कि उक्त अपराधो मे संलिप्त आरोपी राजस्थान मे रहकर इस तरीके के अपराध कारित कर रहा है जिसमें लोकेष नेवला रेल्वे कालोनी जगतपुरा एवं रविन्द्र कुमार मीणा निवासी इटान्डा थाना भुसावर जिला भरतपुर के संलिप्त है और इन लोेगो के खातो में उक्त रूप्यों का जाना पाया गया । जिनकी पतातलाश राजस्थान एवं आसपास के गांवों में किया गया जो उपरोक्त दोनो आरोपियों का सतना आना पाए जाने से पुलिस पार्टी द्वारा दबिष देकर लोकेष नेवला पिता अर्जुन सिंह 31 साल निवासी रिछौली थाना उच्चैन जिला भरतपुर एवं रविन्द्र कुमार मीणा पिता रामकरण उम्र 23 साल निवासी इटान्डा थाना भुसावर जिला भरतपुर को दिनांक 7.12.19 को घेराबंदी कर पुलिस अभिरक्षा मे लिया जाकर पूछताॅछ किया जिन्होने पूछताॅछ के दौरान अपने साथी सजय मीणा के साथ मिलकर उपरोक्त दोनो अपराध घटित करना स्वीकार किए । जिनको गिरफतार किया गया । प्रकरण के आरोपियों के पास से दो नग मोबाइल , आधार कार्ड , ए0टी0एम0 जप्त किया गया है । प्रकरण का एक आरोपी संजय मीणा करौली जिला जेल में नाबालिक के साथ दुष्कर्म के प्रकरण में निरूद्व है । जिसके लिए माननीय न्यायालय से पृथक से प्रोटेक्षन वांरट जारी कराया जावेगा । दोनो गिरफतार आरोपियों का माननीय न्यायालय से पुलिस रिमाण्ड प्राप्त कर विस्तृत पूछताॅद की जावेगी ।   
गिरफ्तार आरोपीः-
1. लोकेष नेवला पिता अर्जुन सिंह 31 साल निवासी रिछौली थाना उच्चैन जिला भरतपुर 
2. रविन्द्र कुमार मीणा पिता रामकरण उम्र 23 साल निवासी इटान्डा थाना भुसावर जिला भरतपुर 
अन्य आरेापी जिसे प्रोटेक्षन वारंट के तहत बुलाया जाना हैः- संजय मीणा पिता रामप्रसाद मीणा उम्र 23 साल निवासी जोल थाना टोडाभीम जिला करोली राजस्थान 
जप्त सामग्रीः-
आरोपियों के पास से दो नग मोबाइल , आधार कार्ड , ए0टी0एम0 जप्त किया गया है
खुलासा करने में सराहनीय योगदान-
उप निरीक्षक के0पी0 त्रिपाठी थाना प्रभारी जसो , थाना प्रभारी नादन  उनि0 भूपेन्द्र मणि पाण्डेय,आर0 अजीत मिश्रा,कमलेश प्रजाजति  और सायबर सेल से प्र0आर0 दीपेश कुमार एवं आर0 वीपेन्द्र मिश्रा  का योगदान सराहनीय रहा है।