चीन से शुरू हुए खतरनाक कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज मिलने की जानकारी से ग्वालियर के स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया।

ग्वालियर,


 


 ग्वालियर के मुरार स्थित जिला अस्पताल में सुबह की ओपीडी में मरीज पहुँचा


 डाक्टर द्वारा जाँच करने पर उसमें चीन से आने वाली बीमारी कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दिए। 


लेकिन डॉक्टर की लापरवाही का आलम यह रहा के सन्दिग्ध मरीज अस्पताल से ही गायब हो गया


जिला अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ बी के बाथम के मुताबिक चीन की एक फैक्ट्री में काम करने वाले दो भाई जो कि ग्वालियर में निवास करते हैं पिछले हफ्ते वापिस लौटे हैं सुबह की ओपीडी में पहुँचे दोनों भाईयों की जब जाँच की गई तो दोनों में कोरोना वायरस लक्षण पाए गए जिसके बाद डाक्टर ने शुरूआती जाँच के लिए उन्हें लैब भेज दिया डाक्टर के अनुसार कोरोना वायरस की जाँच से संबंधित लैब मध्यप्रदेश में नहीं है इसलिए इन दोनों मरीजों के सैम्पल पुणे स्थित लैब या राम मनोहर लोहिया अस्पताल दिल्ली भेजे जाएँगे उसके बाद ही कोरोना वायरस की पुष्टि हो सकेगी फिलहाल दोनों मरीजों को सावधानी रखने के निर्देश के साथ अन्यंत्र स्थान पर भेज दिया गया है संबंधित डाक्टर और स्वास्थ्य विभाग ने अभी संदिग्ध मरीजों के विषय में कोई जानकारी नहीं दी है,


 हालांकि दोनों का इलाज कर रहे मेडिकल ऑफिसर डॉ वी के बाथम ने साफ किया है कि ये मरीज चीन से आए हैं और इनमें कोरोना वायरस होने की संभावना है। 


पूरे मामले में अस्पताल और स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है कि इतने गम्भीर बीमारी का सन्दिग्ध मरीज अस्पताल से गायब है और स्वास्थ्य विभाग को उसकी कोई खबर नही है...