गुनौर से कांग्रेस विधायक शिवदयाल बागरी का बड़ा बयान...

Apna Lakshya News 


 


*कहा : भाजपा प्रदेश की जनता को कर रही गुमराह , कमलनाथ सरकार अल्पमत में नहीं ,बल्कि पूर्ण बहुमत में है ।


*!!  मैं कांग्रेस का सिपाही हूं , मरते दम तक कांग्रेस के साथ खड़ा रहूंगा - शिवदयाल बागरी


गुनौर :मध्य प्रदेश की राजनीति में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जाते ही मध्य प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया  । जिसमे 22 सिंधिया समर्थक विधायकों ने भी विधानसभा स्पीकर नर्मदा प्रसाद प्रजापति को इस्तीफा सौंप दिया है , जिसमें  6 विधायकों के इस्तीफे मंजूर  कर लिए गए हैं । बाकी बचे 16 विधायकों के अगर इस्तीफे स्वीकार कर लिए जाते हैं तो सरकार अल्पमत में आ जाएगी । जिसको लेकर भाजपा सिंधिया समर्थक 22 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार कर फ्लोर टेस्ट कराने की मांग कर रही है । इतना ही नहीं प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त रोकने के लिए भाजपा-कांग्रेस दोनों अपने विधायकों को बचाने के लिए जयपुर , बेंगलुरु , दिल्ली लेकर चार्टर्ड बसों में घूम रही है । इसी गहमागहमी के बीच गुनौर से कांग्रेस विधायक_शिवदयाल_बागरी ने #नईदुनिया_संवाददाता_संदीप_विश्वकर्मा को जानकारी  देते हुए भाजपा पर आरोप लगाया कि भाजपा द्वारा षड्यंत्र पूर्वक प्रदेश की कमलनाथ सरकार को तोड़ने के लिए खरीद-फरोख्त तथा साम-दाम-दंड-भेद अपना कर लोकतंत्र की हत्या कर कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत देने वाली प्रदेश की जनता के अरमानों पर पानी फेरने का काम कर रही है । जिसको प्रदेश की जनता आगामी चुनावों में जवाब देगी । उन्होंने यह भी कहा कि मैं कांग्रेस का सिपाही हूं और मरते दम तक कांग्रेस के साथ खड़ा रहूंगा  , प्रदेश की कमलनाथ सरकार अल्पमत में नहीं बल्कि पूर्ण बहुमत में है , आगामी दिनों में माननीय न्यायालय का जो भी फैसला होगा उसका हम सम्मान करेगे । उन्होंने कहा भाजपा जो आरोप लगा रही है की सरकार अल्पमत में हैं , तो उनको बता दूं कि इन्होंने राज्यपाल के सामने 106 विधायकों की लिस्ट सौंपी है । अगर कांग्रेस विधायकों की बात की जाए तो भाजपा द्वारा बंधक बनाए गए 16 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार नहीं किए गए हैं । 16 विधायक हमसे दूर जरूर हैं । पर उनकी भावनाएं कांग्रेस के साथ हैं और वह कांग्रेस के साथ रहेंगे । वह  विधायक प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के संपर्क में है । अगर कांग्रेस - सपा - बसपा जोड़कर सभी विधायकों की संख्या देखी जाए तो स्पष्ट होता है कि सरकार अल्पमत में है या बहुमत में । भाजपा बहुमत की सरकार को तोड़ने का काम कर रही है । जो कि मैं इसकी घोर निंदा करता हूं । उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश की जनता गुमराह ना हो मध्यप्रदेश में कमलनाथ जी की सरकार है ,  और आगे भी रहेगी । भाजपा पर यह भी आरोप लगाया कि प्रदेश की जनता ने कमलनाथ सरकार को बहुमत दिया है । जिसको भाजपा द्वारा लोकतंत्र की हत्या कर खुलेआम सरकार को तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है । क्योंकि प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने महज 16 महीने की सरकार में सरकार के खाली खजाने को भरने एवं प्रदेश में भू माफियाओं द्वारा करोड़ों , अरबों रुपए की भू संपदा पर आलीशान इमारतें बनाकर सरकार को चूना लगाने वालो पर  कार्रवाई करके सरकार की करोड़ों अरबों  की संपदा को बचाने का काम किया ,  प्रदेश में युवा बेरोजगारी कम हुई है । इसके अलावा भी कई अन्य जनहितेषी कार्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार द्वारा किए गए हैं । कमलनाथ जी के कार्यों को देख भाजपा घबराई हुई है । उन्होंने दावा किया कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार 5 साल नहीं बल्कि 10 साल चलेगी ।


Popular posts from this blog

आज से खुलेंगी किराना दुकानें, खरीद सकेंगे राशन, प्रशासन ने तय किए सब्जी के रेट, देखें लिस्ट

3 जिले पूरी तरह सील, 11 जिलों में टोटल लॉकडाउन, बाहर निकले तो होगी FIR

आपदा प्रबन्धन समिति में गरीबों को भोजन देने का जिम्मेदारी साहब को दी गई है पर साहब अपने कुछ खास मित्रो का ज्यादा ख्याल करते दिखे ये वही है जिनके ऊपर घोटालों की लम्बी लिस्ट तैयार है,