लवकुशनगर अनुविभाग में माफिया काट रहे चांदी प्रशासन बना धृतराष्ट

Apna Lakshya News 


 



{ग्राम पंचायत का फर्जी प्रस्ताव लगाकर ठेकेदार ने  स्वीकृत खदान कराकर दो साल पीएल खदान के नाम पर ग्रेनाइट पत्थर की निकासी माइनिंग लीज के लिए प्रस्ताव देने को तैयार नही ग्राम पंचायत सरपंच पर माफिया बना रहा दबाव}


लवकुशनगर/ अनुविभाग क्षेत्र में  माफियाओ की मनमानी  हावी है नियम कानून को ताक पर रखकर इन पत्थर माफियाओ को जहा मौका मिलता वही बड़ी बड़ी मशीनो को लगाकर खनिज संपदा का दोहन कर रहे है एक ऐसा ही मामला उपतहसील जुझारनगर  के अंतर्गत चितहरी इलाके का है यहां ग्रेनाइट पत्थर खदान संचालन के लिए माफिया ने दो साल पहले ग्राम पंचायत का फर्जी प्रस्ताव लगाकर पीएल खदान संचालित की गई मामले की जानकारी लगने पर ग्रामीणो सहित ग्राम पंचायत सरपंच प्रस्ताव सहित अन्य दस्तावेज खनिज विभाग से मांगने पर ठेकेदार की करतूत उजागर हुई है जानकारी के अनुसार उपतहसील जुझारनगर के मौजा चितहरी के खसरा क्रमांक 1278 में ग्रेनाइट पत्थर खदान के लिए प्रशासन ने अमित गुप्ता निवासी मौदाहा जिला हमीरपुर के नाम 4 हेक्टेयर 7 आरे में स्वीकृति दी ग्रेनाइट पत्थर की क्वालटी परखने और जांच के लिए सेपल भेजने उक्त ठेकेदार ने दो साल पीएल खदान संचालित की ग्रामीणो का आरोप है कि इसी बीच ठेकेदार ने पीएल खदान संचालन के नाम पर शासन को कम राजस्व देकर जमकर पत्थर की निकासी की वही दो साल पूरे होने पर ठेकेदार ने माइनिग लीज उत्खनन की तैयारी शुरू कर दी है लेकिन चितहरी में स्थित इस पहाड़ पर लीज स्वीकृत हो इस बात पर ग्रामीण और ग्राम सरपंच सहमत नही है यही वजह है ग्राम पंचायत ने स्थाई लीज स्वीकृति के लिए कोई प्रस्ताव नही दिया है और पूर्व में भी कोई प्रस्ताव नही दिया था 


माफिया ने तालाब को किया ध्वस्त
••••••••••••••••••••••••••••••••••••••
खसरा क्रमांक 1278 में स्थित पहाड़ के नीचे बरहा गांव का प्राचीन तालाब है लेकिन माफिया ने पहाड़ की डस्ट से प्राचीन तालाब को धीरे धीरे नष्ट किया जा रहा है ग्रामीणो का कहना है कि उक्त तालाब गांव की पहचान है उसको नष्ट होता वह नही देख सकते 


ग्रामीणो का सवाल आखिर कब तक चलेगी माफियाओ की मनमानी
••••••••••••••••••••••••••••••••••••••
नियम कानून को ताक पर रखकर माफियाओ की मनमानी अंचल में सिर चढ़कर बोल रही है अंचल के प्रकाशबम्होरी घटहरी बदौराकला सहित चितहरी में पत्थर माफिया प्रति माह लाखो की राजस्व चोरी कर रहे है ग्रामीणो का प्रशासन से बस एक ही सवाल है की अंचल में माफियाओ की मनमानी आखिर कब तक जारी रहेगी
इनका कहना है
क्षेत्र में हो रहे अवैध उत्खनन को लेकर चंदला विधायक द्वारा सीएम से मिलकर शिकायत की जाएगी खनिज संपदा को बचाने जरूरत पड़ने पर ग्रामीणो के साथ अनशन शुरू किया जाएगा
महेश द्विवेदी विधायक प्रतिनिधि चंदला