शिवराज सरकार के लिए खुशखबरी, इंदौर, भोपाल में रिकवरी दर बढ़ी

Apna Lakshya News 


 


भोपाल। मध्य प्रदेश भी कोरोना संकट से अछूता नहीं है। राज्य का इंदौर शहर अन्य जिलों की तुलना में कोरोना से ज्यादा प्रभावित है। हालांकि राज्य में शिवराज सरकार के लिए अच्छी खबर आई है। क्योंकि शहर में कोरोना संक्रमितों की रिकवरी दर मे इजाफा हुआ  और ये 46 फीसदी हो गई है वहीं भोपाल में भी दल में इजाफा हुआ है और 54 फीसदी पहुंच गई है।


मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में कोरोना के कुल मामले 939 तक पहुंच गए हैं और 92 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। हालांकि जिले में रिकवरी दर में इजाफा हुआ है औऱ ये 46फीसदी तक पहुंच गई है जबकि राष्ट्रीय दर 31.74 फीसदी है। राज्य में अब तक कोरोना संक्रमणों के 4,000 से अधिक मामले सामने आए हैं। वहीं राज्य में पिछले सप्ताह में बीमारी से ठीक होने वाले रोगियों की संख्या दोगुनी हो गई है।


जबकि राज्य में 28 अप्रैल को रिकवरी दर 15.79 फीसदी थी जबकि 10 मई को 46.38 फीसदी तक पहुंच गई है। हालांकि राज्य में मृत्युदर राष्ट्रीय दर की तुलना में ज्यादा है। राज्य में मृत्यु दर लगभग 5.84फीसदी है  वहीं राष्ट्रीय मृत्यु दर 3.24 फीसदी है। इंदौर में 2016 मामले सामने आए हैं और जिले में 92 लोगों की मौत कोरोना से हुई है जबकि 939 लोग कोरोना से ठीक हो गए हैं। वहीं राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमितों की संख्या 842  तक पहुंच गई है और 528 मरीज पूरी तरह से ठीक हो गए हैं।


इसके अलावा उज्जैन में 264 मामले सामने आए हैं और इसमें  45 लोगों की मौत हुई है और 132 मरीज ठीक हो गए हैं। वहीं राज्य के खरगोन जिले में रिकवरी दर 58फीसदी है।  जो राज्य में सबसे ज्यादा है। जबकि भोपाल की रिकवरी दर 54फीसदी तक पहुंच गई है। राज्य में अब  तक 225 लोगो की मौत कोरोना से हुई है और संक्रमितों की संख्या 4037 तक पहुंच  गई है।